Breaking News
recent

बिना प्रेस के पुलिस अधूरी,अभिनंदन,सम्मान एव विदाई समारोह में पुलिस अधीक्षक ने कहा

शहजाद खान  शाजापुर-
शाजापुर को हमें एक अच्छा जिला बनाना हे, जिसमे अपराधो का नियंत्रण हो, यातायात व्यवस्था सुचारू रूप से चले, महिलाओ के प्रति अपराध कम हो, उक्त बाते प्रेस क्लब द्वारा स्थानीय विश्राम गृह पर आयोजित अभिनंदन,सम्मान एव विदाई समारोह में मुख्य अतिथि नवागत पुलिस अधीक्षक डॉ. मोनिका शुक्ला ने कही कार्यक्रम में अति. पुलिस अधीक्षक महेंद्र तारणेकर का स्थानांतरण खंडवा हो जाने पर सम्मान एवं विदाई समारोह भी किया । 

डॉ शुक्ला ने कहा की प्रेस के बगेर पुलिस नही चल सकती, मेरे एक महीने के अनुभव के अनुसार शाजापुर के मीडियाकर्मी  बहुत बढ़िया हे, मेरी आशा हे की पुलिस से पहले मेरे पास पत्रकारों द्वारा ख़ुफ़िया जानकारी आये, पत्रकारों को निरंतर खबर मिले इसके लिए हमने पीआरओ बना दिए हे,
कार्यक्रम को संबोदित करते श्री तारनेकर 
इस अवसर  पर अति. पुलिस अधीक्षक महेंद्र तारणेकर ने कहा कि शाजापुर से मेरा विशेष लगाव है। साल पहले शाजापुर में एसडीओपी के रुप में बिताया गया कार्यकाल मेरे लिए एक अच्छा अनुभव रहा था तो वर्तमान में अति. पुलिस अधीक्षक के रुप में जिलेवासियों के साथ बने तालमेल ने मुझे सदैव सकारात्मक सहयोग प्रदान किया, जिसके लिए मैं शाजापुरवासियों का आभारी रहूंगा। पिछली बार एसडीओपी के रुप में गया था और अति. पुलिस अधीक्षक बनकर लौटा। मुझे अलविदा न कहो इस बार जा रहा हूं जल्दी फिर लौटकर आऊंगा।
इस अवसर पर मंचासीन अतिथियों के रुप में प्रेस क्लब संरक्षक संजय वर्मा, नईम कुरैशी, मनोज नारेलिया, राजेश नागर,इमरान खरखरे,मनोज पुरोहित उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन प्रेस क्लब प्रवक्ता मनीष सोनी ने किया तथा आभार उपाध्यक्ष मंगल नाहर ने माना।  कार्यक्रम में प्रेस क्लब कोषाध्यक्ष जितेंद्र भावसार, सह सचिव गोविंद शर्मा,सुमित भावसार, बहादुरसिंह चौहान, ईश्वर परमार, नीलेश वर्मा, अजयगिरी गोस्वामी, किशोर सोनी, नितिन भटनागर, सचिन बोड़ाना, शहजाद खान, साजिद कुरैशी, फय्याज खान, वाहिद खान, हरीश कुशवाह, अमजद खान, नावेद खान, मनीष नागर, अभिषेक व्यास, मोहित भावसार, महेश गवली, गणेश गवली, प्रकाश सूर्यवंशी सहित बड़ी संख्या में पत्रकार उपस्थित थे
बेहतर कार्य के लिए हुए सम्मानित...
शहर में विभिन्न अवसरों पर उत्कृष्ट कार्य करने वाले एसडीओपी देवेंद्र यादव तथा कोतवाली थाना प्रभारी राजेंद्र वर्मा का प्रेस क्लब द्वारा सम्मान किया गया। इस अवसर पर पुष्पमाला पहनाकर सम्मान-पत्र भेंट करते हुए उनके कार्य की सराहना की गई। गौरतलब है 28-29नवंबर की दरमियानी रात शहर के भट्ट मोहल्ला में हुई घटना का खुलासा करने में दोनों अधिकारियों द्वारा अहम भूमिका निभाई गई थी।
कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे प्रेस क्लब अध्यक्ष दीपक चौहान ने श्री तारणेकर के कार्यकाल की उपलब्धियां बताते हुए कहा कि शाजापुर में हर मोर्चे पर अपने पुलिसकर्मियों के साथ मुस्तैदी के साथ तैनात रहने वाले एएसपी तारणेकर आम जनता से भी सीधा संवाद स्थापित करने वाले एक कुशल पुलिस प्रशासनिक अधिकारी हैं।

इस दौरान प्रेस क्लब संरक्षक शिवपालसिंह चौहान ने कहा कि पुलिस और प्रेस एक-दूसरे की पूरक हैं। मीडिया के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण रखने वाले पुलिस अधिकारियों के साथ मीडिया का सहयोगात्मक संबंध स्थापित हो जाता है। श्री तारणेकर ऐसे ही अधिकारियों में शामिल जिन्होंने अपने कार्यकाल में पुलिसकर्मी, आम जनता और मीडियाकर्मियों के साथ बेहतर सामंजस्य बनाकर कार्य किया। संरक्षक सुनील नाहर ने कहा कि स्थानांतरण के बाद भी क्षेत्रवासियों के दिल में अपनी पहचान और यादें छोड़ने वाले कुछ विरले ही अधिकारी होते हैं और तारणेकर जी को यह उपलब्धि हासिल है कि वे यहां से जाने के बाद भी शाजापुरवासियों से सदैव जुड़े रहेंगे। इसके पूर्व कार्यक्रम की शुरूआत पत्रकारों द्वारा उपस्थित अतिथियों का स्वागत कर की गई। इस दौरान नवागत पुलिस अधीक्षक डॉ. मोनिका शुक्ला को अभिनंदन-पत्र तथा अति. पुलिस अधीक्षक महेंद्र तारणेकर को सम्मान एवं विदाई पत्र भेंटकर सम्मानित किया गया।





shahzad Khan

shahzad Khan

No comments:

Post a Comment

Powered by Blogger.