Breaking News
recent

Advertisement

सभी जनपद सीओ और अन्य के वेतन आहरण पर लगाईं रोक। मामला शाजापुर जिले का

Adjust the font size:     Reset ↕

-जिले की चारो जनपद के अधिकारियो और कर्मचारियो में मचा हड़कंप

-जिला पंचायत श्री रावत ने काम में ढिलपोल करने वालो के खिलाफ उठाया कदम
शाजापुर 5 फरवरी 2017/जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री वीरेन्द्र सिंह रावत ने ग्रामीण विकास विभाग की महत्वपूर्ण योजनाओं में लक्ष्य पूर्ति एवं प्रगति असंतोषजनक पाए जाने पर जिले की सभी जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों, मनरेगा सहायक यंत्रियो उपयंत्रियों, ग्राम पंचायत सचिवों तथा ग्राम रोजगार सहायकों के वेतन आहरण पर आगामी आदेश तक रोक लगाई है।
    जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री वीरेन्द्र सिंह रावत ने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन अन्तर्गत शौचालय निर्माण लक्ष्य (सा'ताहिक एवं मासिक) के विरूद्ध प्रगति अत्यन्त न्यून पाई गई है। इसी तरह मनरेगा योजनान्तर्गत नवीन कार्यो में शांतीधाम निर्माण, ग्रामीण क्रीड़ांगन, सुदूर सड़क निर्माण, कपिलधारा कूप, तालाब की स्वीकृति एवं प्रारंभ् करने की स्थिति अत्यन्त असंतोषजनक पाई गई।  आवास योजनान्तर्गत सभी पंचायतों में लक्ष्य व स्वीकृति अनुरूप प्रगति तथा पूर्व से प्रगतिरत इंदिरा आवास पूर्णता की स्थिति संतोषजनक नही पाई गई। इसी तरह पंचपरमेश्वर योजना की ग्रामवार डीपीआर तैयार करने की स्थिति भी न्यून होने से जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों, मनरेगा सहायक यंत्रियो, उपयंत्रियों, ग्राम पंचायत सचिवों तथा ग्राम रोजगार सहायकों वेतन के आहरण पर रोक लगाई गई है। इस संबंध में विगत दिवस वीडियों कान्फ्रेसिंग मं पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा में भी नाराजगी व्यक्त की गई थी। साथ ही स्वच्छ भारत मिशन के समस्त सुपरवाईजर्स के वेतन आहरण पर भी रोक लगाई जाकर तीन दिवस में प्रगति हासिल करने के निर्देश दिए गए है। 
    वेतन आहरण पर रोक के साथ ही सीईओं श्री रावत ने निर्देश दिए है कि सभी योजनाओं में 28 फरवरी तक लक्ष्यानुरूप प्रगति हासिल करें।

Like us on Facebook

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए मालवा अभीतक के Facebook पेज को लाइक करें

Shahzad Khan

No comments:

Post a Comment

Powered by Blogger.