Breaking News
recent

आस्था और भक्ति के साथ दादावाड़ी के शिखर पर लहराई धर्मध्वजा

शाजापुर (नि.प्र.)। नगर के ओसवालसेरी स्थित अतिप्राचीन व चमत्कारी दादावाड़ी के जीर्णोद्धार की तृतीय वर्षगांठ के शुभ अवसर पर आयोजित ध्वजारोहण का धार्मिक कार्यक्रम शुक्रवार को विधि-विधान सहित सम्पन्न किया गया। इस दौरान परमविदूषी छत्तीसगढ़रत्न शिरोमणी परमपूज्या गुरूवर्या मनोहरश्रीजी म.सा. की सुशिष्याएं युवा संस्कार भारती जैनसाध्वी प.पू.लयस्मिताश्रीजी, अमीवर्षाश्रीजी, भव्योदयाश्रीजी, गुणोदयाश्रीजी एवं जिनवर्षाश्रीजी म.सा.ऽके पावन सानिध्य में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए।
इस सबंध में जानकारी देते हुए समाज के मिडिया प्रभारी मंगल नाहर ने बताया कि उक्त एक दिवसीय धार्मिक दिव्य अनुष्ठान की शुरूआत सुबह 8ः36 बजे दादा गुरूदेव की महापूजा के साथ की गई। जिसके मध्य अपरान्ह 11 बजे शुभ मुहूर्त में आयोजन के लाभार्थी ज्ञानचंद, सपनकुमार व सचिनकुमार भंसाली परिवार के सदस्यों द्वारा दादावाड़ी के शिखर पर दिव्य मंत्रौच्चारण और भक्तिभाव के साथ धर्म ध्वजारोहण किया गया। इसके उपरांत दोपहर 3 से 4 बजे तक प्रकट प्रभावी दादागुरूदेव के सामुहिक इकतीसे का जाप साध्वी मंडल की पावन निश्रा में दादावाड़ी में सम्पन्न हुआ। सांय 7ः30 बजे लोकेन्द्र नारेलिया भक्ति मंडल द्वारा संगीतमय गुरूभक्ति एवं रात्री 9 बजे जगमग दीपकों के साथ दादा गुरूदेव की महाआरती की गई। इस अवसर पर दादावाड़ी में विराजित पांचों दादागुरूदेव की प्रतिमाओं की नयनाभिराम अंगरचना भी समाजजनों द्वारा की गई। इस मौके पर लाभार्थी भंसाली परिवार के सदस्यों सहित ज्ञानचंद गोलेछा, माणकचंद बोथरा, डॉ.एल.एन.व्यास, वीरेन्द्रसिंह गोहिल, राजमल जैन, शांतिलाल जैन, माणकचंद रांका, सुरेश जैन, प्रकाष जैन, सुनील नाहर, ओमप्रकाश जैन, जितेन्द्र नारेलिया, विनोद जैन, महेश जैन, लोकेश जैन, आशुतोष चोपड़ा तथा प्रतीक जैन सहित बड़ी संख्या में समाज के महिला-पुरूषगण उपस्थित थे। 
०००००००००००००००००००००


shahzad Khan

shahzad Khan

No comments:

Post a Comment

Powered by Blogger.