Breaking News
recent

Advertisement

श्री परशुराम जयंति समारोह- प्रमुख मार्गों से निकली भगवान श्री परशुराम जी की शोभायात्रा

Adjust the font size:     Reset ↕

- जगह-जगह हुआ स्वागत सत्कार, बड़ी संख्या में शामिल हुए समाजजन
- यात्रा के समापन पर हुई महाआरती
शाजापुर। ब्राह्मण समाज द्वारा मनाए जा रहे भगवान श्री परशुराम जी की जयंति समारोह के दूसरे दिन विशाल शोभायात्रा नगर के प्रमुख मार्गों से गुजरी। इस दौरान कई स्थानों पर विशेष बग्गी में विराजित भगवान श्री परशुराम जी की मर्ू्ती का पूजन-अर्चन किया गया। साथ ही जगह-जगह शोभायात्रा का पुष्प वर्षा आदि से स्वागत किया गया। यात्रा में अश्व पर भगवान श्री परशुराम के रूप में विराजे बालक आकर्षण का केंद्र रहे। शोभायात्रा में जिले के विभिन्ना ग्रामीण अंचल व शहरों से आए समाज बंधु भी शामिल हुए। यात्रा समापन पर श्री बालवीर हनुमान मंदिर पर महाआरती हुई। जिसमें एसपी मोनिका शुक्ला प्रमुख रूप से मौजूद रहीं।
संरक्षक महेंद्र शर्मा, ब्राह्मण समाज अध्यक्ष डॉ. हेमंत दुबे, यात्रा संयोजक पं विनीत वाजपेयी, युवा संघ अध्यक्ष ललित तिवारी, यात्रा सहसंयोजक अनूप किरकिरे, रितेश शर्मा ने बताया कि रविवार शाम को भगवान श्री परशुराम जी की शोभायात्रा निकाली गई। जो श्री बालवीर हनुमान मंदिर से प्रारंभ होकर वजीरपुरा, किलारोड, छोटा चौक, बड़ा चौक, नईसड़क, बस स्टेंड चौराहा, काछीबाड़ा, सोमवारिया बाजार होते हुए वापस श्री बालवीर हनुमान मंदिर पहुंची। यहां भगवान श्री परशुराम जी की महाआरती की गई। शोभायात्रा में बड़ी संख्या में समाजजन शामिल हुए। यात्रा में बड़ी संख्या में कर्मकांड की शिक्षा ग्रहण कर रहे  ब्राह्मण वटुक भी शामिल हुए। दौरान जगह-जगह भगवान श्री परशुराम जी का पूजन-अर्चन व स्वागत विभिन्ना संगठन, समाज व अन्य लोगों द्वारा किया गया।  ब्राह्मण समाज ने इसके लिए सभी का आभार जताया है। उल्लेखनीय है कि श्री परशुराम जयंति समारोह को लेकर समाज द्वारा पिछले एक माह से तैयारियां की जा रही थी।
ऐसा रहा यात्रा का क्रम
यात्रा में सबसे आगे बैंड चल रहा था। इसके पीछे अश्व पर सवाल बाल रूप भगवान श्री परशुराम विराजित थे। इनके बाद ब्राह्मण वटुक, बैंड, मातृशक्ति (महिलाएं), भगवान श्री परशुराम विराजित बग्गी, बैंड, ठोल, उम्रदराज मातृशक्तियों का वाहन, बैंड, सबसे पीछे पुरूष वर्ग रहा। 
अन्य शहरों से पधारे समाजजन
शोभायात्रा में जिले के विभिन्ना गांव व शहर से भी समाजजन शामिल हुए। प्रमुख रुप से मक्सी से डॉ. रवि पांडे, ओमप्रकाश शर्मा, शरद रावल, मोहन बड़ोदिया से लक्ष्मी नारायण व्यास, सुनिल तिवारी, श्रीमति मंजू शर्मा, सारंगपुर से दिनेश तिवारी, आदित्य उपाध्याय, प्रकाश तिवारी सहित ग्राम बिजाना, लड़ावद, शुजालपुर, अवंतिपुर बड़ोदिया, कालापीपल, तिंगजपुर लडावद, टुकराना, पनवाड़ी, बिजांना आदि गांव से भी समाजजन शोभायात्रा में शामिल होने आएं। 
समाजजन ने लिया बेटी बचाओ का संकल्प
शोभायात्रा के समापन और महाआरती के बाद जिला महिला सशक्तिकरण विभाग द्वारा सीमा शर्मा के माध्यम से भेजे गए। बेटी बचाओ के संकल्प पत्र का वाचन कर संकल्प लिया। संकल्प पत्र का वाचन एसपी मोनिका शुक्ला द्वारा किया गया। संकल्प लिया गया कि बेटा-बेटी में भेद नहीं समझेंगे और बेटों के सामान प्यार, दुलार अधिकार बेटियों को भी देंगे।

Like us on Facebook

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए मालवा अभीतक के Facebook पेज को लाइक करें

Shahzad Khan

No comments:

Post a Comment

Powered by Blogger.