Breaking News
recent

Advertisement

पवित्र माह रमजान में एकता ग्रुप ने किया हाफिज, कारी और आलिमों का सम्मान--धर्मगुरूओ और वरिष्टजनों ने की मालवा के सबसे बड़े आयोजन की सराहना,

Adjust the font size:     Reset ↕


रमजान के महीने में एक नेकी के बदले 70 गुना नेकी मिलती है
शहजाद खान शाजापुर- विगत् वर्ष के मुताबिक इस वर्ष भी मंगलवार को देर रात एकता ग्रुप द्वारा हाफिज, कारी और आलिमों की दस्तारबंदी की गई। पवित्र माह रमजान के दौरान मस्जिद में गरिमामय समारोह में बड़ी संख्या में समाजजनों ने शिरकत की। कार्यक्रम में इस्लामी तरीके से जिंदगी गुजारने पर जोर दिया गया।
इस आयोजन के लिए एकता ग्रुप की तारीफ अल्फाजो में नही की जा सकती- समारोह को संबोधित करते हुए मुफ्ती अ. हमीद और हाफिज अफजल साहब ने कहा कि अल्लाह इस मुबारक महीने में एक नेकी के बदले 70 गुना नेकी देता है। हर वो शख्स जिसे अल्लाह ने दौलत से नवाजा है, वह पूरी ईमानदारी से जकात निकाले। रोजा सिर्फ भूखा रहने का नाम नहीं, रोजा हाथ, पैर, मुंह, दिल-दिमाग पर काबू रखने का नाम है। एकता ग्रुप द्वारा किये जा रहे इस प्रकार के समाजहित के आयोजन के लिए हम ग्रुप के सभी सदस्यों के आभारी हे और खुदा से ये दुआ करते हे की इस ग्रुप को समाज हित में और भी ज्यादा से ज्यादा आयोजन करनी के लिए मजबूती अता फरमाए-
इस आयोजन से समाज में भाईचारा बढता हे- ग्रुप अध्यक्ष सै. वकार अली ने कहा कि आपसी भाईचारे व प्रेम की ओर एक कदम और आगे बढ़ाते हुए आलिमों का ये सम्मान समारोह आयोजित किया गया है। रमजान माह में मुस्लिम भाई खुदा को खुश करने के लिए रोजा रखते है। मैं ये पुण्य कार्य कर बहुत गर्व महसूस कर रहा हूं। ऐसे कार्य से समाज मजबूत होता है, भाईचारा प्रेम भाव बढ़ता है तथा मानवता पैदा होती है। 
हमारे देश की अनेकता में ही एकता देश की तरक्की व खुशहाली की निशानी है- ग्रुप सचिव शेख शाकिर बुशरा ने कहा कि हमारे देश की अनेकता में ही एकता देश की तरक्की व खुशहाली की निशानी है। रोजा जहां इंसान को खुदा का महबूब बनाता है, वहीं रोजा सभ्य व स्वच्छ समाज के निर्माण में मुख्य भूमिका निभाता है। रोजा रखने वाला पाप तथा बुराई से दूर रहता है। वह हर समय खुदा की इबादत में मगन रहता है जिससे उसे मानसिक तथा शारीरिक संतुष्टि प्राप्त होती है। इसलिए सभी को बिना किसी भेदभाव से एकता का परिचय देते हुए एक दूसरे के दुख-सुख में साथ देना चाहिए। 
इसके बाद ग्रुप पदाधिकारियों ने समस्त आलिमों को सौगात देकर सम्मानित किया। साथ ही भाई-भाई टोपीवालों की तरफ से अध्यक्ष सै. वकार अली को सम्मानित भी किया गया। सम्मान समारोह के बाद देश में अमन शांति अच्छी बारिश की दुआ की गई।
इस मौके पर वरिष्ठ पदाधिकारी एडवोकेट एहसान उल्ला काजी, दाऊद सेठ, हाजी डाॅ. अशफाक मंसूरी, हाजी मसीद खा, अय्यूब मेव, गफ्फार भाई फौजी, भय्यू मास्टर, मोहसिन मिर्जा, बब्लू भाई श्रृंगारिका, इरफान पटेल, भय्या काजी, हैदर अली, वसीम गोल्डन, शराफत शिशगर, जाकिर कस्साब, भय्यू अंकल, आबिद टेलर, जाकिर हुसैन देवास सहित पदाधिकारी उपस्थित थे।

Like us on Facebook

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए मालवा अभीतक के Facebook पेज को लाइक करें

Shahzad Khan

No comments:

Post a Comment

Powered by Blogger.