Breaking News
recent

Advertisement

शाजापुर अपडेट- कलेक्टर एसपी ने की पत्रकारों के साथ बैठक-पत्थरबाजी में दर्जनभर लोग घायल,गाडियों के कांच फूटे- देखे बैठक का विडियो

Adjust the font size:     Reset ↕

शाजापुर, 16 सितम्बर 2017/ कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्रीमती अलका श्रीवास्तव ने शाजापुर नगर में दो समुदायों के बीच तनाव की स्थिति को देखते हुए शाजापुर नगरीय सीमा क्षेत्र
में तत्काल प्रभाव से भारतीय दण्ड संहिता की धारा 144 के तहत आगामी आदेश तक प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किए है। धारा 144 के तहत जारी प्रतिबंधात्मक आदेशानुसार कोई भी व्यक्ति प्रतिबंध अवधि में 5 या 5 से अधिक की संख्या में एक साथ एक स्थान पर एकत्रित नही
होंगे। किसी भी प्रकार के शस्त्र, लाठी, तलवार, छूरा, बल्लम, भाला या अन्य प्रकार के अस्त्र-शस्त्र, ज्वलनशील पदार्थ धारित नही करेंगे। उक्त प्रतिबंधात्मक आदेश समस्त पुलिस बल एवं लोक व्यवस्था एवं कानून व्यवस्था में लगे हुए शासकीय सेवकों पर लागू नही होगा। आदेश का
उल्लंघन करने वालों के विरूद्ध भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 के तहत कार्रवाई होगी। 
क्रमांक 78/887
नगर में स्थिति नियंत्रण में
शाजापुर, 16 सितम्बर 2017/जिला दण्डाधिकारी एवं कलेक्टर श्रीमती अलका श्रीवास्तव ने बताया कि शाजापुर नगर में स्थिति नियंत्रण में है। शांति व्यवस्था बहाल है। ऐहतियात के तौर पर
नगर में भारतीय दण्ड संहिता प्रक्रिया की धारा 144 प्रभावशील है।
ये हे मामला-  उल्लेखनीय है कि नगर में इकबाल की मृत्यु होने पर उसे आज प्रातः दफनाने के लिए खसरा नम्बर 244 मरघट स्थल पर परिवारजन लेकर आए थे। चूंकि उक्त जगह मरघट की होने के कारण एक समुदाय द्वारा विरोध किया गया, जिसे दूसरे पक्ष द्वारा मान्य करते हुए कब्रिस्तान खसरा नम्बर 206 में जाकर शव को दफनाया गया। इसी बीच दोनों समुदाय के मौजूद लोगों के बीच तनाव की स्थिति उत्पन्न होने पर जिला दण्डाधिकारी श्रीमती अलका श्रीवास्तव एवं पुलिस अधीक्षक श्री शैलेन्द्र सिंह चौहान मौके पर गए और उन्होंने दोनो समुदाय के लोगो को समझाया। इसी बीच पत्थर बाजी होने से स्थिति खराब हो गई। इसलिए जिला दण्डाधिकारी द्वारा तत्काल प्रभाव से धारा 144 के तहत प्रतिबंध घोषित किया गया। पत्थबाजी की घटना में 10 व्यक्ति घायल हुए है। 
क्रमांक 79/888

Like us on Facebook

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए मालवा अभीतक के Facebook पेज को लाइक करें

Shahzad Khan

No comments:

Post a Comment

Powered by Blogger.