Breaking News
recent

सलसलाई में अब तक शांति कायम नही, ठीक से नही खुल पाए स्कुल, बाजार भी हे बंद, गाँव से बहार चले गए सेकड़ो लोग

Adjust the font size:     Reset ↕

- कोने कोने पर पुलिस तेनात, गाँव में पसरा सन्नाटा, भय और डर का माहोल बरकरार,
शाजापुर। जिला मुख्यालय से 40 किमी दूर स्तिथ ग्राम सलसलाई में गत 5 नवंबर को हुए उपद्रव के बाद से अब तक शांति स्थापित नही हो पाई हे, यहाँ पर अब तक बाजार पूर्ण रूप से नही खुल पाए हे । शनिवार को पुलिस ने कुछ दुकाने व्यापारियों से खुलवाई, लेकिन स्कुल उपद्रव के बाद से ही बंद हे , जानकारीके अनुसार स्कुलो और
अस्पतालों में पुलिस का पड़ाव भी हे, जानकारी के अनुसारर उपद्रव के बाद से उक्त गाँव में आमजनता में भय और डर का माहोल व्यप्त हे, बताया जा रहा हे की मुस्लिम समाज के लोग अपने घरो में नही हे, पुलिस और प्रशासन द्वारा लोगो को पूर्ण सुरक्षा देने का वादा भी किया जा रहा हे, बावजूद इसके अभी तक इस छोटे से गाँव का माहोल ठीक नही हो पाया हे, यहाँ के लोग यहाँ की पुलिस से और पुलिस द्वारा की गई कार्यवाही से काफी नाराज हे, उपद्रव के बाद जनप्रतिनिधियों और मिडियाकर्मियों ने भी एसपी को यहाँ की पुलिसिंग से अवगत कराते हुए थाना प्रभारी को हटाने की  मांग भी थी, आपको बता दे की उपद्रव के दोरान सलसलाई की पुलिस पर
वर्ग विशेष के साथ पक्षपात के आरोप भी लगे थे, यहाँ पर शुक्रवार को हुई शांति समिति की बैठक में खूब हंगामा हुआ और जो लोग बैठक में थे उन्होंने अपनी मांगो को लेकर खूब हंगामा किया और खुले से रूप से कहा की जब तक हमारी बाते नही मानी जाएगी तब तक बाजार नही खुलेगा, जानकारी के अनुसार मुस्लिम समाज के लोग भी मीटिंग में नही आये थे, इधर पुलिस अफसरों का कहना है कि विवाद दोनों पक्षों की ओर से हुआ। दोनों ही पक्षों ने एक-दूसरे पर हमला किया। जिससे दोनों ही पक्ष के लोगों को गंभीर चोट आई। इसके लिए दोनों ही पक्षों के खिलाफ केस दर्ज किए गए हैं। हम लोगों की शिकायत और समस्याओं के समाधान के लिए प्रयासरत हैं। हालांकि केस खत्म करने जैसी मांग पूरी होना मुश्किल है। जिन पर भी केस दर्ज किए गए हैं। नियमानुसार और प्राथमिक साक्ष्यों के आधार पर ही किए गए हैं।

मुस्लिम समाज के लोग कर गए पलायन- कुक ही देर में क्या हो जाए, निर्दोष होने के बाद भी क्या पता पुलिस पकड़ ले, इस प्रकार की धारणा मन में लिए सलसलाई के मुस्लिम समाज के लोग इन दिनों यहाँ से पलायन कर गए हे,

कब स्थापित होगी पूर्ण शांति- सलसलाई शाजापुर जिले का एक छोटा सा गाँव हे, यहाँ हुए उपद्रव के बाद यहाँ की व्यवस्थाओ का निरिक्षण स्वयं कमिश्नर उज्जैन, आईजी और डीआईजी उज्जैन ने किया था, शाजापुर पुलिस अभी भी यहाँ पर तेनात हे, लेकिन अब तब तक यहाँ का वातावरण ठीक नही हो पाया हे, यहाँ के लोगो के मन से अब तक लड़ाई झगडे का डर नही गया हे, जबकि पुलिस और प्रसासन द्वारा सतत प्रयास किया जा रहा हे लेकिन परिणाम अब नही आया

माहोल ठीक हे
- सलसलाई में पूरी तरह शांति है। सुरक्षा के लिए पुलिस अभी भी गांव में तैनात है। स्कुल खुले हे लेकिन बच्चे नही आ रहे हे, आज फिर लोगो की मीटिंग लेंगे

-आरएस अम्ब एसडीओपी बेरछा



Like us on Facebook

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए मालवा अभीतक के Facebook पेज को लाइक करें

Shahzad Khan

No comments:

Post a Comment

Powered by Blogger.