Breaking News
recent

12 वर्षों में मध्य प्रदेश को बदलने की कोशिश की है, आगे और तेजी से बदलाव होगा मुख्यमंत्री श्री चौहान ने महिदपुर में 12 वर्ष पूर्ण होने पर आमसभा को सम्बोधित किया

Adjust the font size:     Reset ↕

उज्जैन- मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आज उन्हें मुख्यमंत्री के रूप में 12 वर्ष पूर्ण हुए हैं। इन 12 सालों में हरेक सांस चली है तो वह मध्य प्रदेश की जनता के लिये चली है। कैसे मध्य प्रदेश का विकास करूं, यही चिन्तन निरन्तर बना रहा है। उन्होंने कहा कि “मैंने मुख्यमंत्री बनकर खुद को इतना बड़ा नहीं होने दिया कि आम जनता से कट जाऊं। मेरे लिये मेरी जनता ही भगवान है। मुख्यमंत्री नहीं मैं सेवक हूं, जनता की पूजा भगवान महाकाल की पूजा है।” मुख्यमंत्री ने यह बात आज उज्जैन जिले के महिदपुर कस्बे में विकास यात्रा एवं अन्त्योदय कार्यक्रम के अवसर पर आमसभा को सम्बोधित करते हुए कही।
   मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मैंने दिन-रात 12 वर्षों में मध्य प्रदेश को बदलने की कोशिश की है। उन्होंने कहा कि मालवा क्षेत्र का मेहनती किसान दिन-रात एक करके पसीना टपकाता है। इस क्षेत्र का भूमिगत जल बहुत नीचे चला गया है। वैज्ञानिकों की राय के विरूद्ध जाकर मैंने नर्मदा का पानी शिप्रा में डालने का काम किया है। शिप्रा के बाद अब नर्मदा फरवरी-2018 तक गंभीर से जुड जायेगी। इसके बाद पार्वती, कालीसिंध और नर्मदा को चंबल तक ले जाया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि मालवा के किसान को पानी दे दिया जाये, धरती की प्यास बुझा दी जाये, तो वह खेती में कमाल कर सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने सरकार को किसान के साथ खड़ा कर दिया है। आठ रूपये किलो प्याज खरीदकर सरकार ने किसानों का प्याज खराब नहीं होने दिया। मुख्यमंत्री भावान्तर योजना के बारे में चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने किसानों को समर्थन मूल्य के नीचे फसल बिकने पर घाटा होने से बचाने के लिये नई योजना बनाई है। समर्थन मूल्य के नीचे यदि भाव गिरता है तो किसानों को मॉडल मूल्य से अन्तर निकालकर अन्तर की राशि उनके खाते में जमा कराई जा रही है। उन्होंने कहा कि 16 अकटूबर से 31 अक्टूबर तक के सोयाबीन के भावान्तर की राशि 477 रूपये प्रति क्विंटल किसानों के खाते में जमा हो चुकी है। एक से 30 नवम्बर तक की राशि भी 15 दिसम्बर तक जमा करा दी जायेगी। उन्होंने खेती पर बोझ कम करने की बात करते हुए कहा कि किसानों के बेटे-बेटियां कृषक उद्यमिता योजना का लाभ लेकर खेती के साथ-साथ अन्य व्यवसाय शुरू कर सकते हैं। इस योजना में 10 लाख से लेकर 02 करोड़ रूपये तक का ऋण दिया जायेगा, बैंक गारंटी सरकार देगी। यही नहीं 15 प्रतिशत सब्सिडी सरकार देगी और आगामी पांच वर्ष तक पांच प्रतिशत का ब्याज ही लगेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि कृषि कार्य करते हुए मृत्यु होने पर किसानों को चार लाख रूपये की आर्थिक सहायता दी जा रही है। मुख्यमंत्री ने ग्रामीणजनों को आश्वस्त किया कि कोई भी गरीब बिना आवास के पट्टे के नहीं रहेगा तथा चार साल में सभी गरीबों को पक्का मकान बनाकर दिया जायेगा। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार का लक्ष्य है कि बच्चों को ऐसा काम सिखाया जाये, जिसमें रोजगार सुनिश्चित रूप से मिल सके। उन्होंने कहा कि प्रदेश में युवा उद्यमिता योजना के मार्फत हर साल साढ़े सात लाख बच्चों को रोजगार दिलाया जायेगा। अध्यापक पदों के लिये 50 प्रतिशत महिलाओं की भर्ती की जायेगी और पुलिस में 33 प्रतिशत पद महिलाओं के लिये आरक्षित रहेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम शीघ्र ही एक कानून बनाने जा रहे हैं, जिसमें बेटियों के साथ दुराचार करने वाले व्यक्ति को फांसी पर लटका दिया जायेगा।
झारड़ा तहसील बनेगी, कॉलेज खुलेगा
   मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने मंच से घोषणा की कि झारड़ा टप्पे को तहसील का दर्जा दिया जायेगा तथा झारड़ा में अगले शिक्षा सत्र से महाविद्यालय प्रारम्भ होगा। महिदपुर तहसील के बोरखेड़ा, पेटलावद व गेलाखेड़ी में 33 केव्ही के सब-स्टेशन बनेंगे। डुगरिया ग्राम में शिप्रा नदी के तट पर स्टापडेम का निर्माण करवाया जायेगा। इसी के साथ मुख्यमंत्री ने हरदाखेड़ी डेम से महिदपुर को पेयजल उपलब्ध कराने के लिये पाइप लाइन स्वीकृत करने की घोषणा की। नगर पालिका महिदपुर को स्टेडियम एवं उद्यान निर्माण करने के लिये आवश्यक धनराशि स्वीकृत करने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने 20 दिसम्बर को मराठा एवं अंग्रेजों के बीच हुए युद्ध में शहीद हुए व्यक्तियों की स्मृति में प्रतिवर्ष शहीद दिवस मनाने के लिये दो लाख रूपये की राशि महिदपुर नगर को स्वीकृत करने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने साथ ही घोषणा की कि प्रदेश में हैण्ड पम्प की बजाय नल जल योजना के माध्यम से एक हजार की आबादी के सभी गांवों को पेयजल प्रदान किया जायेगा।
34 करोड़ रु के लोकार्पण एवम  शिलान्यास
   मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने आज महिदपुर में विकास यात्रा के दौरान 34  करोड़ रुपये के निर्माण कार्यो का शिलान्यास एवं भूमि पूजन किया। मुख्यमंत्री ने 132 केवी उपकेंद्र भैंसोला मीन खाचरौद लागत 28 करोड़ 42 लाख रूपये का शिलान्यास, नवीन बस स्टैंड महिदपुर लागत 4 करोड़ 15 लाख रूपये का लोकार्पण, घोंसला के नवीन बस स्टैंड  लागत एक करोड़ रूपये का लोकार्पण तथा ग्रामीण खेलकूद मैदान झारड़ा लागत 80 लाख रूपये का लोकार्पण किया।
मंच से हितग्राहीयों को लाभान्वित किया, अन्त्योदय मेले में 304 करोड़ के विकास कार्य
   मुख्यमंत्री श्री चौहान ने  ग्राम लोटिया जुनारदा की सहायता बाई को 1लाख 20 हजार  रु की लागत से बने  आवास की चाबी सौंपी, गोगपुर निवासी रोशनी को 1 लाख 18 हजार रु के राष्ट्रीय बचत पत्र, घोसला की कमला बाई, गेलाखेड़ी  के मोहनलाल, कटारिया के कचरू को भूखंड पट्टा, ठिकरिया के मुकेश एवम सेकाखेड़ी की सोनकुंवर  को  4 लाख की आर्थिक सहायता  के चेक़ भेंट किये । इस तरह मुख्यमंत्री की उपस्थिति में आयोजित अंत्योदय मेले में विभिन्न ग्राम पंचायतों के हितग्राहियों को 304 करोड़ रु की सौगात दी गई मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने विकास यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री भावान्तर योजना से किसान नागेश्वर आंजना को 44 हजार 168 रूपये का प्रतिकात्मक चेक भेंट किया। इसी तरह से किसान सोहनसिंह को रेज्डबेड प्लांटर के लिये 48 हजार रूपये एवं श्रीमती कमलाबाई को भूखण्ड का पट्टा वितरित किया। कार्यक्रम में किसानों को आज 10 हजार से अधिक आवासीय पट्टे वितरित किये गये।
   इसके पूर्व मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान, सांसद डॉ.चिन्तामणि मालवीय, विधायक श्री बहादुरसिंह चौहान, श्री दिलीपसिंह शेखावत, डॉ.मोहन यादव, श्री अनिल फिरोजिया, पूर्व विधायक श्री लालसिंह राणावत की उपस्थिति में दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया।
   सांसद डॉ.चिन्तामणि मालवीय ने कहा कि लोक कल्याण पर्व में 12 वर्ष पूर्ण होने पर निश्चित रूप से मध्य प्रदेश की जनता प्रसन्न है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में एक समय वह था, जब बिजली और सड़क नहीं के बराबर थी। उस अंधे युग में प्रकाश लेकर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान आये। डॉ.मालवीय ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने शासकीय चिकित्सालयों में बिस्तरों की संख्या 4400 से बढ़ाकर 42 हजार कर दी है। विद्युत उत्पादन पांच हजार मेगावाट से बढ़ाकर 20 हजार मेगावाट कर दिया है और उेढ़ लाख किलो मीटर लम्बी सड़कें बनाई हैं। उन्होंने कहा कि श्री शिवराज सिंह चौहान ने सरकार नहीं बल्कि प्रदेश को परिवार मुखिया की तरह चलाया है।

   स्वागत भाषण देते हुए विधायक श्री बहादुरसिंह चौहान ने कहा कि जिस आशा और विश्वास के साथ मुख्यमंत्री ने प्रदेश की सेवा की है, वह अद्वितीय है। जब भी किसानों की फसल बिगड़ती है, मुख्यमंत्री कोई नई योजना लेकर आ जाते हैं। मुख्यमंत्री भावान्तर योजना से किसान अत्यन्त प्रसन्न हैं। विधायक श्री चौहान ने महिदपुर तहसील को सूखाग्रस्त घोषित करने की मांग रखी तथा झारड़ा में महाविद्यालय एवं झारड़ा को तहसील बनाने के लिये आग्रह किया। जगोटी में नवीन उप स्वास्थ्य केन्द्र बनाने की मांग रखी। विधायक ने 12 वर्ष पूर्ण होने पर मुख्यमंत्री के महिदपुर आगमन पर आभार व्यक्त किया।
   इस अवसर पर संभागायुक्त श्री एमबी ओझा, एडीजी श्री व्ही.मधुकुमार, डीआईजी डॉ.रमणसिंह सिकरवार, कलेक्टर श्री संकेत भोंडवे, पुलिस अधीक्षक श्री सचिन अतुलकर, श्री इकबालसिंह गांधी, महिदपुर एसडीएम श्री जगदीश गोमे एवं बड़ी संख्या में गणमान्य जनप्रतिनिधि व अधिकारी मौजूद थे।

Like us on Facebook

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए मालवा अभीतक के Facebook पेज को लाइक करें

Shahzad Khan

No comments:

Post a Comment

Powered by Blogger.