Breaking News
recent

Advertisement

पुत्रों से प्रताडि़त पिता ने जनसुनवाई में दिया आवेदन, कलेक्टर ने तुरंत एसडीएम को कार्यवाही करने के निर्देश दिये- देखे खबर

Adjust the font size:     Reset ↕

शहजाद खान-उज्जैन 05 दिसंबर।  प्रति मंगलवार को होने वाली जनसुनवाई में कलेक्टर श्री संकेत भोंडवे के समक्ष ग्राम चिंतामण जवासिया के निवासी करण सिंह पिता भागीरथ ने आवेदन देकर शिकायत की कि उनके सगे पुत्रों द्वारा उनके साथ समय समय पर दुर्व्यवहार करते हुए मारपीट की जाती है और उन्हें दो समय के भोजन से भी वंचित रखा जा रहा है। आश्चर्य की बात यह थी कि आवेदक आर्थिक रूप से कमजोर नहीं है। आवेदक की संयुक्त संपति, कृषि भूमि, दो मंजिल मकान, ट्रेक्टर, जेवरात वगैरह सबकुछ हैं। पंरतु फिर भी उनके पुत्रों द्वारा शारीरिक और मानसिक रूप से उन्हें इस कदर परेशान कर दिया गया है कि उन्हें कलेक्टर के समक्ष गुजारा भत्ता और बिमारी के इलाज के लिए आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने के लिए आवेदन देना पड़ रहा है। कलेक्टर ने इस पर तुरंत एसडीएम उज्जैन को पूरे मामले की जांच कर तत्काल आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये। 
ग्राम जगोटी निवासी केलास बाई पति स्व. रमेश चंद्र ने आवेदन दिया कि उनके पति की एक वर्ष पूर्व केंसर के कारण मृत्यु हो गयी थी। पति की मृत्यु के पश्चात उनके ससुर द्वारा प्रार्थीया और उनके बच्चों को घर से निकाल दिया गया है तथा उनके हिस्से की जमीन भी हड़प ली गई है। इस पर कलेक्टर ने एसडीएम महिदपूर को जांच कर आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये। 
ग्राम नवादा तहसील नागदा निवासी आंनदीलाल पिता अंबाराम ने आवेदन दिया कि ग्राम पंचायत नवादा में रोजगार सहायक सचिव के द्वारा पंचायत में सरपंच की मिली भगत से भ्रष्टाचार किया जा रहा है और शासकीय राशि का दूरूपयोग किया जा रहा है। आवेदक ने उक्त आरोपियों के विरूध्द उचित कार्यवाही करने का निवेदन किया। जिस पर सीईओ जिला पंचायत को पूरे मामले की जांच कर आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये। 
ग्राम गोंसा निवासी कैलाश पिता मांगीलाल ने आवेदन दिया कि उनके गोल खाते की भूमि पर स्थानीय व्यक्ति द्वारा गहरे गढ्ढे किये जा रहे हैं और मना करने पर अनावश्यक वाद विवाद कर उन्हें जान से मारने की धमकी दी जा रही है। इस पर एसडीएम घट्टिया को उचित कार्यवाही करने को कहा गया।
ग्राम करनावद निवासी कस्तूरबाई पति स्व. रूगनाथ ने आवेदन दिया कि उनके अधिकार की जमीन पर उनके पुत्र द्वारा अवैध रूप से कब्जा कर लिया गया है तथा उनके साथ दुर्व्यवहार कर उन्हें घर से निकाल दिया गया है। इस पर एसडीएम नागदा को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये। 
सरस्वती नगर उज्जैन निवासी सत्यनारायण पिता बंशीलाल मालवीय ने आवेदन देकर शिकायत की कि वे सन् 1995 से विक्रम विश्व विदयालय में भृत्य के पद पर कार्यरत हैं। सन् 1999 में मौखिक आदेश से उन्हें सेवा से पृथक कर दिया गया था। आवेदक ने कहा कि राज्य शासन द्वारा वर्ष 2004 में ऐसे समस्त दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों को सेवा में लिये जाने का आदेश था, परंतु उन्हें सन् 2011 से सेवा में लिया गया। आवेदक ने सन् 1995 से सेवा में पुनरू स्थापित करने का निवेदन किया ताकि उसे आर्थिक नुकसान न हो। इस पर एडी उच्च शिक्षा को मामले की जांच कर नियमानुसार कार्यवाही करने को कहा गया। 
ग्राम घट्टिया निवासी अर्जुन सिंह चैधरी पिता नंदराम चैधरी ने आवेदन देकर शिकायत की कि गांव की शासकीय रिक्त भूमि पर कुछ स्थानीय व्यक्तियों द्वारा सार्वजनिक उत्सवों के लिए पक्का निमार्ण कर लिया गया है। आरोपियों द्वारा बिना अनुमति के चबूतरे का निमार्ण शासकीय भूमि पर अतिक्रमण कर किया गया है। इस पर एसडीएम घट्टिया को उचित कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये। 
इसी प्रकार जनसुनवाई में आये अन्य आवेदनों के निराकरण के लिए कलेक्टर ने संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये। 


Like us on Facebook

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए मालवा अभीतक के Facebook पेज को लाइक करें

Shahzad Khan

No comments:

Post a Comment

Powered by Blogger.