Breaking News
recent

शाजापुर 23 दिसम्बर डायरी, 5- प्रसासनिक खबरे

Adjust the font size:     Reset ↕

अनुविभागीय अधिकारी राजस्व एवं तहसील कार्यालय को आईएसओ प्रमाणन
शाजापुर, 23 दिसम्बर 2017/शाजापुर जिला मुख्यालय स्थित अनुविभागीय अधिकारी राजस्व कार्यालय एवं तहसील कार्यालय को आज समारोहपूर्वक आईएसओ प्रमाण पत्र प्रदान किया गया। प्रमाण पत्र कलेक्टर श्री श्रीकांत बनोठ ने प्राप्त किया। सारे मापदण्डों को पूरा करते हुए जिले को शासकीय कार्यालयों के लिए पहला आईएसओ प्रमाण पत्र प्राप्त हुआ है। इस मौके पर आईएसओ सर्टिफिकेशन देने वाली संस्था प्रतिबिम्ब मेनेजमेंट सर्विसेस के सहायक प्रबंधक श्री अजय सिंह धाकड़ एवं आडिटर श्री विनित शर्मा, अनुविभागीय अधिकारी श्री यू.एस. मरावी तहसीलदार श्री अवनीश मिश्रा, कमाण्डेंट होमगार्ड श्री विक्रम सिंह मालवीय, नायब तहसीलदार श्री अजय अहरवाल एवं श्री विकास श्रीवास्तव भी उपस्थित थे।  
प्रमाण पत्र प्राप्त होने पर कलेक्टर श्री बनोठ ने अनुविभागीय अधिकारी श्री मरावी एवं तहसीलदार श्री मिश्रा को बधाई एवं शुभकामना देते हुए कहा कि आईएसओ के लिए पूरे किए गए मापदण्डों की निरंतरता बनाए रखें। कार्यालय में आमजनता को शासन की योजनाओं का लाभ समय पर प्राप्त हो, कार्यालय की प्रक्रियाओं में पारदर्शिता लाते हुए सेवाओं में निरंतरता बनाए रखें तथा आमजनता को किसी प्रकार की तकलीफ न हो इसका भी ध्यान रखें। इस मौके पर उन्होंने अन्य विभागों के लिए यह अनुकरणीय है सभी विभाग भी अपने कार्यालयों को आईएसओं सर्टिफाईड कराने के लिए कार्यवाही करें। 
उल्लेखनीय है कि आईएसओ प्रमाण पत्र अंतर्राष्ट्रीय एक्रिडेशन फोरम के तत्वावधान में दिया जाता है। इसके लिए कंसल्टेंसी संस्था को आवेदन करना होता है। कार्यालयों को आईएसओ प्रमाण पत्र कार्यालय के प्रबंधन, दस्तावेजों के रख-रखाव, योजनाओं का क्रियान्वयन,कार्यालयों द्वारा दी जा रही सेवाओं की गुणवत्ता, कार्यालयों में आमजनता की समस्याओं के निराकरण, स्वच्छता, कार्यों के सम्पादन की विधि आदि मापदण्डों के आधार पर दिया जाता है। मापदण्डों को पूरा किया जा रहा है अथवा नही इसके लिए प्रदाता संस्था द्वारा तीनवर्ष तक आडिट भी किया जाता है।
क्रमांक 62/1161

श्री द्वारका तीर्थ दर्शन के लिए आवेदन आमंत्रित
शाजापुर, 23 दिसम्बर 2017/मुख्यमंत्री तीर्थ दर्षन योजना के अन्तर्गत शाजापुर जिले से 5 फरवरी 2017 से 10 फरवरी 2018 तक श्री द्वारका तीर्थ दर्शन हेतु यात्रा पर जाने के इच्छुक बुजुर्गो से 10 फरवरी 2018 तक आवेदन आमंत्रित किए गए है। द्वारका यात्रा हेतु शाजापुर जिले को 132 यात्रियों का लक्ष्य प्राप्त हुआ है। 
अपर कलेक्टर श्रीमती मीनाक्षी सिंह ने बताया कि श्री द्वारका तीर्थ दर्शन हेतु यात्रा षाजापुर रेल्वे स्टेषन से 5 फरवरी 2018 को प्रस्थान होगी। तीर्थ यात्रा पर जाने के लिए पात्र बुजुर्ग अपने आवेदन-पत्र 10 फरवरी 2018 तक संबधित तहसील, जनपद पंचायत कार्यालय या मुख्य नगर पालिका अधिकारी को प्रस्तुत कर सकते है। यात्रा पर जाने के लिए 65 वर्ष से अधिक उम्र के यात्री को अपने साथ एक सहायक ले जाने की पात्रता होगी। सहायक के रूप मे परिवार के निकटतम रिष्तेदार को ही पात्रता होगी, जिसकी उम्र 20 वर्ष से अधिक एवं 40 वर्ष से कम होना चाहिये। सहायक का आवेदन भी साथ में संलग्न करना होगा। जो यात्री अपने साथ जीवन साथी को ले जाना चाहते है, वे जीवन साथी का आवेदन पत्र पृथक से निर्धारित प्रपत्र में भरकर दे। आवेदक को यात्रा हेतु शारीरिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ्य होना चाहिए और किसी संक्रामक रोग यथा टी.बी., कांजेस्टिव, कार्डियक, श्वास में अवरोध संबंधी बीमारी, मानसिक व्याधि, संक्रामक कुष्ठ आदि से ग्रसित न हो। यात्री आयकर दाता नही होना चाहिये। इस योजना के अंतर्गत आवेदक को उनके जीवन काल में एक ही बार एक ही स्थान की यात्रा करने की पात्रता है। साथ ही आवेदक को षाजापुर जिले का मूल निवासी संबंधी वोटर आई.डी. या आधार कार्ड होना अनिवार्य है।
क्रमांक 63/1162

जिला स्तरीय निर्वाचन साक्षरता समिति का गठन
शाजापुर, 23 दिसम्बर 2017/भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री श्रीकांत बनोठ ने निर्वाचन साक्षरता को मुख्य धारा में शामिल करने हेतु विद्यालयों, महाविद्यालयों, शासकीय विभागों एवं मतदान केन्द्रों में निर्वाचन साक्षरता क्लब, मतदाता जागरूकता फोरम एवं चुनाव पाठशाला की स्थापना करने हेतु कार्यक्रम की योजना बनाने, आंकलन एवं क्रियान्वयन करने के लिए कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी की अध्यक्षता में जिला स्तरीय निर्वाचन साक्षरता समिति का गठन किया गया है।
समिति में अपर कलेक्टर, उप जिला निर्वाचन अधिकारी, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत, जिला शिक्षा अधिकारी, महिला एवं बाल विकास कार्यक्रम अधिकारी, जिला शिक्षा केन्द्र परियोजना समन्वयक, अपने-अपने क्षेत्र के अनुविभागीय अधिकारी निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी, तहसीलदार एवं सहायक निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी, महिला सशक्तिकरण अधिकारी, प्राचार्य जिला शिक्षा प्रशिक्षण संस्थान, कालापीपल, मक्सी, शाजापुर एवं शुजालपुर महाविद्यालयों के प्राचार्य, शाजापुर के शासकीय उत्कृष्ट उमावि, शासकीय उमावि क्रमांक-2, महारानी लक्ष्मीबाई उमावि, शासकीय उमावि ज्योतिनगर के प्राचार्य, जनअभियान परिषद् समन्वयक, जिला जनसंपर्क अधिकारी, स्वीप प्लान के नोडल अधिकारी एवं सभी मुख्य नगरपालिका अधिकारियों को सदस्य बनाया गया है। 
क्रमांक 64/1163

श्रमोदय विद्यालय मे अगले सत्र से निःषुल्क सीबीएसई पाठ्यक्रम मे पढ़ेगे निर्माण श्रमिको के बच्चे
शाजापुर, 23 दिसम्बर 2017/पंजीकृत निर्माण श्रमिकां के बच्चों को बेहतर षिक्षा उपलब्ध कराने के लिए म.प्र. भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण मण्डल, श्रम विभाग ने अनूठी पहल की हैं। जवाहर नवोदय विद्यालय की तर्ज पर प्रदेष के 4 महानगरो में पंडित दीनदयाल उपाध्याय श्रमोदय आवासीय विद्यालय खोले गयें हैं।
विद्यालय का पहला सत्र वर्ष 2018-19 से प्रांरभ होगा, जिसमे पंजीकृत निर्माण श्रमिकों के बच्चों को कक्षा 6वी,7वी,8वी,9वी एवं 11वी में प्रवेष दिया जायेंगा। इस हेतु प्रवेष परीक्षा का आयोजन 8 अप्रैल 2018 को होगा। प्रदेष मे भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर एवं इन्दौर शहर में खोले गयें श्रमोदय विद्यालयों मे शैक्षणिक सत्र 2018-19 से षिक्षण शुरु किया जायेगा। इन सर्व सुविधा युक्त पूर्णतः आवासीय विद्यालयों में श्रमिकों के बच्चों को षिक्षा के साथ भोजन, गणवेश, खेलखूद सामग्री सहित अन्य मूलभूत सुविधाऐं पूरी तरह निःषुल्क प्राप्त होगी। वर्तमान मे निर्माण श्रमिको के बच्चे जिस शाला मे अध्ययनरत हैं, उस विद्यालय से ही प्रवेष परीक्षा के लिए आवेदन लिये जायेंगे। विभाग ने आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 30 दिसम्बर 2017 निर्धारित की है। पंजीकृत निर्माण श्रमिक के पास लेबर पोर्टल से जनरेट ऑनलाईन पंजीयन होना आवष्यक है। 
8 अप्रैल 2018 को होगी प्रवेष परीक्षा
श्रमोदय स्कूलो में छात्रों की चयन प्रक्रियां का टाईम टेबल तैयार किया गया है।    30 दिसम्बर 2017 तक आवेदन जमा किये जाएगे। जनवरी 2018 के तीसरे सप्ताह तक आवेदनां की जांच की जाएगी। फरवरी 2018 के अंतिम सप्ताह तक छात्र-छात्राओं के लिए प्रवेष पत्र बांटे जाएगे। उन्हे मोबाईल पर एस.एम.एस. के माध्यम से भी प्रवेष पत्र संबंधी सूचना दी जाएगी। इसके बाद 8 अप्रैल 2018 को प्रवेष परीक्षा आयोजित होगी। मई के पहले सप्ताह तक मूल्यांकन के बाद पहली मेरिट सूची जारी की जाएगी। जून 2018 तक प्रथम मेरिट सूची के आधार पर छात्रो को आवासीय स्कूलो मे प्रवेष दिया जाएगा। जुलाई 2018 से स्कूलो मे पढ़ाई प्रारंभ हो जाएगी। प्रचार-प्रसार के लिए संकुल प्राचार्यो की बैठक में उन्हे इस योजना की जानकारी दी गई है, तथा कहा गया हैं कि वे अपने-अपने स्कूलो मे अध्ययनरत पंजीकृत निर्माण श्रमिकों के बच्चों को इसके बारे में जानकारी उपलब्ध कराये। स्कूलो में प्राचार्य को प्रवेष फार्म भी दिये गये है, जिसे 30 दिसम्बर तक श्रम कार्यालय मे जमा कराने होगें।
संभागों मे चुने गये शहर
श्रमोदय विद्यालय इन्दौर मे इन्दौर व उज्जैन संभाग के सभी जिलो के पंजीकृत निर्माण श्रमिको के बच्चे प्रवेष के लिए पात्र हांगे। ऐसे अभ्यर्थी जिन्होने कक्षा 5वी,6वी,7वी,8वी, एवं 10वी कक्षा मे 15 सितम्बर 2017 से पहले प्रवेष नही लिया है वे आवेदन के लिए पात्र नही होंगे।   
जिले में 25 हजार पंजीकृत निर्माण श्रमिक
      जिला श्रम कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार शाजापुर जिले में वर्तमान मे 25 हजार पंजीकृत निर्माण श्रमिक है। श्रमोदय विद्यालय के संचालन का मुख्य उद्धेष्य यह है कि निर्माण श्रमिको के बच्चे भविष्य मे देषभर मे कही भी अध्ययन करने की पात्रता रख सके एवं प्रतियोगी परीक्षाओं मे सम्मिलित हो सके, इसलिए स्कूलां में षिक्षा का पाठ्यक्रम सीबीएसई पाठ्क्रम अनुसार रखा गया है। षिक्षा के साथ-साथ खेल, सांस्कृतिक और साहित्यिक क्षेत्रो में आगे बढ़ने के पर्याप्त अवसर व संसाधन छात्रों को उपलब्ध करायें जाएगे। श्रमोदय विद्यालय के संचालन संबंधी सभी निर्णय राज्य स्तरीय संचालन समिति द्वारा लिये जाएगे। 
क्रमांक 65/1164

लोक कल्याण शिविरों का आयोजन
शाजापुर, 23 दिसम्बर 2017/आमजन को शासन की नवीनतम योजनाओं की जानकारी देने तथा उनकी समस्याओ का मौके पर ही निराकरण करने के उद्देश्य से 30 दिसम्बर 2017 को शुजालपुर जनपद क्षेत्र की ग्राम पंचायत जामनेर एवं 01 जनवरी 2018 को शाजापुर जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत तिलावद गोविन्द में दोपहर 12.30 बजे से जिला स्तरीय लोक कल्याण शिविर आयोजित किया गया है। 


क्रमांक 66/1165

Like us on Facebook

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए मालवा अभीतक के Facebook पेज को लाइक करें

Shahzad Khan

No comments:

Post a Comment

Powered by Blogger.