Breaking News
recent

शाजापुर 29 जनवरी डायरी- आज की नो खबरे

Adjust the font size:     Reset ↕

प्रतिभाओं को निखरने का मौका दिया है, शाजापुर उत्सव ने-प्रभारी मंत्री श्री जोशी
शहजाद खान - शाजापुर, 29 जनवरी 2018/छिपी हुई प्रतिभाओं को निखरने का मौका दिया है, शाजापुर उत्सव ने। यह बात प्रदेश के तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास (स्वतंत्र प्रभार), स्कूल शिक्षा तथा श्रम विभाग राज्य मंत्री एवं जिला प्रभारी श्री दीपक जोशी ने गत दिवस जिला मुख्यालय पर तीन दिवसीय शाजापुर उत्सव के समापन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित करते हुए कहीं। इस अवसर पर समारोह की अध्यक्षता विधायक श्री अरूण भीमावद ने की। समारोह में विशिष्ट अतिथि के रूप में नगरपालिका उपाध्यक्ष श्री मनोहर विश्वकर्मा, कलेक्टर श्री श्रीकांत बनोठ भी उपस्थित थे।
इस अवसर पर प्रभारी मंत्री श्री जोशी ने संबोधित करते हुए कहा कि हमारे देश की संस्कृति सभी जीव-जन्तुओं के प्रति दया का भाव रखती है। हमारे देश को विश्वगुरू एवं शांति का देश माना गया है। हमारे देश में अनेक कलाएं और संस्कृतियां विद्यमान है। आमतौर पर युवा संस्कृति से दूर होता जा रहा है। इस स्थिति में संस्कृतियों और कलाओं से परिचित कराने के लिए शाजापुर उत्सव सराहनीय कदम है। लोगों में प्रतिभाएं छुपी रहती है जिसे बाहर निकालने और निखरने का मौका इस तरह के आयोजन से मिलता है। इस अवसर पर उन्होंने शाजापुर जिले की पेयजल समस्या के निराकरण के प्रयास के संबंध में भी जानकारी दी। प्रभारी मंत्री श्री जोशी ने कहा कि शाजापुर उत्सव में सम्पन्न हुई प्रतियोगिताओं में श्रेष्ठतम प्रतिभागियों के लिए कुल 51 हजार रूपये के पुरस्कार दिए जाएगें। 
समारोह की अध्यक्षता कर रहे विधायक श्री भीमावद ने कहा कि सांस्कृतिक कार्यक्रमों और उत्सवों के आयोजन से व्यक्ति तनाव मुक्त होता है। प्रदेश सरकार ने लोगों को तनाव से दूर करने के लिए ही आनन्द विभाग का गठन किया है। जिला मुख्यालय पर आनन्द विभाग द्वारा प्रति रविवार सैर सपाटे के आयोजन को नागरिकों से अच्छा प्रतिसाद मिल रहा है। शाजापुर उत्सव में सम्पन्न हुई ’’शाजापुर को जाने‘‘ एक अच्छी प्रतियोगिता है, इससे युवाओं को शाजापुर नगर की जानकारी मिली। 
अन्तिम दिवस मनमोहक सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति
शाजापुर उत्सव के अंतिम दिन राजस्थान के जोधपुर से आए श्री अपना नाथ के दल द्वारा अत्यंत ही मनमोहक कालबेलिया, घूमर एवं भवई नृत्य प्रस्तुत किया गया। भवई नृत्य में कलाकारों द्वारा तलवार एवं थाली पर किए गए नृत्य को देख दर्शकों ने दातों तले उंगली दबाई। वहीं इन कलाकारों ने नृत्य के दौरान विभिन्न भावभंगिमाओं के साथ करतब प्रस्तुत किए, जिसकी दर्शकों ने तालियों की गड़गड़ाहट के साथ प्रशंसा की। इस अवसर पर डिंडोरी जिले के श्री कमलसिंह मरावी के दल ने सैला एवं करमा नृत्य प्रस्तुत किया, जिसे भी दर्शकों ने सराहा। इस अवसर पर स्थानीय विद्यालयों जिसमें सरस्वती शिशु मंदीर दुपाड़ा रोड, आदर्श कालोनी एवं शरद नगर, कोटिल्य एज्यूकेशन एकेडमी, गुरूकुल फेम एकेडमी मक्सी, हायरसेकेण्ड्री स्कूल भरड़, हायरसेकेण्ड्र स्कूल ज्योति नगर, इटरनल स्कूल स्टडिज, पायोनियर पब्लिक स्कूल, सहज पब्लिक स्कूल एवं मॉ उमिया पब्लिक स्कूल के विद्यार्थियों ने गीतों पर शानदार सामूहिक नृत्य प्रस्तुत किए। 
पुरस्कारों का वितरण
शाजापुर उत्सव में विभिन्न गतिविधियों एवं प्रतियोगिताओं में शामिल होकर श्रेष्ठ स्थान अर्जित करने वाले प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र एवं स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया गया। प्रति रविवार जिला मुख्यालय पर आयोजित हो रहे सैर सपाटे में फोटोग्राफी करने वाले श्री विजय व्यास (बंटी), श्री मुकेश राठौर, श्री भगवान दास बैरागी, श्री संदीप गुप्ता, श्री रोहित देवतवाल एवं श्री प्रकाश पांचाल को सम्मानित किया गया। शाजापुर को जाने प्रतियोगिता में प्रथम आने वाले सूरज सोलंकी, द्वितीय राजपाल चांदना एवं तृतीय योगेन्द्र सिंह गुर्जर को सम्मानित किया गया। फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता में प्रथम आने वाली निधी कलमोदिया, द्वितीय आने वाली जोयाखान व नीरा, तृतीय आने वाली देशना कोठारी को सम्मानित किया गया।  संजा प्रतियोगिता में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली सपना अंतरसिंह सहज पब्लिक स्कूल, द्वितीय स्थान पर आने वाली शिवानी पाटीदार वं संचिता सोलिया, हायरसेकेण्ड्री भरड़ एवं तृतीय स्थान पर आने वाली पूजा रमेश चन्द्र व अन्नपूर्णा हायरसेकेण्ड्री सतगांव को सम्मानित किया गया। माडना प्रतियोगिता में प्रथम आने पर श्रीमती चंदन सोनी, द्वितीय आने पर श्रीमती नीलम राठौर एवं तृतीय आने वाली श्रीमती निशा पवैया को सम्मानित किया गया। इसी तरह मेंहदी प्रतियोगिता में प्रथम आने पर तस्मीया मंसूरी, द्वितीय आने पर रानू डाबी एवं तृतीय आने पर तहीरा मोहम्मद रफीक को भी सम्मानित किया गया। इसी तरह सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति में प्रथम आने पर पायोनियर पब्लिक स्कूल, द्वितीय आने पर सहज पब्लिक स्कूल तथा तृतीय स्थान पर रहे सरस्वती शिशु मंदीर शरद नगर को प्रमाण पत्र देकर पुरस्कृत किया गया। इस अवसर पर शाजापुर उत्सव में सहयोग देने वाले श्री सतीश शर्मा, श्री अनिल शास्त्री, श्री शाहनवाजखान, श्री कन्हैयालाल माली, श्री फरियाद, श्री भवानीशंकर, श्री बसंत, श्री नन्दकिशोर वर्मा, पटवारी श्री महेश मण्डलोई को भी सम्मानित किया गया। 
डिप्टी कलेक्टर श्रीमती कलावती ब्यारे ने आभार व्यक्त करते हुए शाजापुर उत्सव में सहयोग देने वाले श्री विवेक दुबे, कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण श्री कोमल भूतड़ा, खाद्य अधिकारी श्री एस.के. जैन, महिला एवं बाल विकास कार्यक्रम अधिकारी श्री डी.एस. जादौन डिप्टी कलेक्टर सुश्री प्रियंका वर्मा, जनपद सीईओ सुश्री पूजा मालाकार की सराहना डिप्टी कलेक्टर श्रीमती कलावती ब्यारे ने की। कार्यकम का संचालन श्री हेमन्त दुबे ने किया।
विकास प्रदर्शनी का अवलोकन
शाजापुर उत्सव के दौरान जनसंपर्क विभाग द्वारा तीन दिवसीय विकास प्रदर्शन भी लगाई गई थी, जिसका अवलोकन कलेक्टर श्री श्रीकांत बनोठ सहित शाजापुर के नागरिकों ने भी किया। प्रदर्शनी में विकास कार्यो पर आधारित फ्लेक्स बैनर्स प्रदर्शित किए गए थे। प्रदर्शनी लोकतंत्र का पर्व भारत पर्व पर लगाई गई थी। 
साथ ही स्वसहायता समूह द्वारा उत्पादित सामग्रियों के प्रदर्शन हेतु लगाए गए स्टॉल का भी कलेक्टर श्री बनोठ ने अवलोकन किया। 


बोलाई में 30 जनवरी 2018 को लोक कल्याण शिविर
शाजापुर, 29 जनवरी 2018/आमजन को शासन की नवीनतम योजनाओं की जानकारी देने तथा उनकी समस्याओ का मौके पर ही निराकरण करने के उद्देश्य से जनपद पंचायत मो. बड़ोदिया की ग्राम पंचायत बोलाई में 30 जनवरी 2018 को दोपहर 01.00 बजे से जिला स्तरीय लोक कल्याण शिविर आयोजित किया गया है। 


शहीद दिवस पर रखे मौन धारण 
शाजापुर, 29 जनवरी 2018/ भारत के स्वतंत्रता संग्राम के शहीदों की स्मृति में 30 जनवरी को प्रातः 11.00 बजे दो मिनिट का मौन धारण करने के निर्देश राज्य शासन द्वारा जारी किए गए हैं। 30 जनवरी को सभी शासकीय सेवक एवं आमजनों से अपेक्षा की गई है कि वे प्रातः 11.00 बजे सभी गतिविधियां रोक कर दो मिनिट का मौन धारण कर शहीदों के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे।

 
स्पर्श कुष्ठ जागरूकता अभियान 30 जनवरी 2018 से 
शाजापुर, 29 जनवरी 2018/ राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्य तिथि पर जिले में राष्ट्रीय कुष्ठ उन्मुलन कार्यक्रम के तहत कुष्ठ रोग के प्रति जन सामान्य मे फैली छुआ-छुत एवं भय जैसी भ्रांतियां को दूर करने के लिये 30 जनवरी से स्पर्श कुष्ठ जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। उक्त जानकारी देते हुए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जी.एल सोढ़ी ने बताया कि जिला स्तर पर भारत स्कॉउट-गाईड एवं जूनियर रेडक्रॉस सोसायटी के छात्र-छात्राओं की रैली निकाली जाएगी। रैली स्कॉउट गाईड कार्यालय एबी रोड से प्रारंभ होकर शहर के विभिन्न मार्गो से होती हुई पुनः स्कॉउट गाईड कार्यालय पहॅुँचेगी। इसी प्रकार सरस्वती शिशु मंदिर ग्राम बेरछा मे भी छात्र-छात्राओं के द्वारा कुष्ठ जन जाग्रती हेतु रैली निकाली जावेगी।
कार्यक्रम प्रभारी डॉ.ललित किशोर शर्मा ने बताया कि कुष्ठ रोगमुक्त परिवार मे विवाह किया जा सकता है, यह अनुवांशिक रोग नही है। कुष्ठ रोग शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने पर ही होता है, कुष्ठ रोग छुआ-छुत का रोग नहीं है, कुष्ठ का अर्थ विकृति नही दाग है, जिसकी शुरूआत दाग-धब्बो से ही होती है। दाग-धब्बो का ईलाज ही विकृति से छुटकारा दे सकता है। सभी लोगों को शरीर पर हल्के रंग के दाग धब्बों की जांच व ईलाज करवा लेना चाहिये ताकि कुष्ठ रोग की प्रारम्भ मे ही रोकथाम की जा सके। शासन द्वारा सभी शासकीय स्वास्थ्य केन्द्रों मे एमडीटी उपचार उपलब्ध है। एमडीटी औषधियों के नियमित सेवन से कुष्ठ रोगी पूर्णतः कुष्ठ रोग मुक्त हो सकता है, इस मौके पर उन्होने बताया की दिनांक 30 जनवरी 2018 से स्पर्श कुष्ठ जागरूकता अभियान का प्रारम्भ होगा जो 13 फरवरी 2108 तक चलेगा। अभियान के दौरान 30 जनवरी 2018 को सभी ग्राम पंचायतों, शिक्षण संस्थाओं एवं कार्यालयों आदि मे कुष्ठ विषय पर आधरित अपील का वाचन एवं कुष्ठ रोगी से भेद-भाव नही करने व अपनी ग्राम को कुष्ठ मुक्त करने का संकल्प लिया जावेगा। साथ ही अभियान के दौरान स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं द्वारा घर-घर जाकर कुष्ठ रोग की खोज एवं उपचार किया जावेगा तथा लोगां को कुष्ठ रोग के कारण तथा समुचित उपचार के संबंध मे जानकारी दी जाने के साथ-साथ कुष्ठ रोग हाथ मिलाने से नही फैलता है छुआ-छुत का रोग नही है संबंधि जानकारी विघालयों मे भी दी जावेगी।


एक फरवरी को डीएलसीसी की बैठक
शाजापुर, 29 जनवरी 2018/ शासन की विभिन्न योजनाओं के तहत बैंकों द्वारा हितग्राहियों को दिए जाने वाले ऋण की स्थिति एवं विभागों द्वारा की गई कार्रवाई की समीक्षा हेतु 01 फरवरी को अपराह्न 3 बजे कलेक्टर श्री श्रीकांत बनोठ की अध्यक्षता में जिला स्तरीय समन्वय समिति की बैठक आयोजित की गई है। उक्त जानकारी देते हुए एलडीएम श्री अरूण कुमार गुप्ता ने बताया कि बैठक में अन्य मुद्दों पर भी चर्चा होगी।


प्रोजेक्ट असिस्ट स्कीम समिति का गठन
शाजापुर, 29 जनवरी 2018/ कलेक्टर श्री श्रीकांत बनोठ ने कलेक्टर की अध्यक्षता में प्रोजेक्ट असिस्ट स्कीम के तहत जिला स्तरीय समिति का गठन किया है। यह समिति राष्ट्रीय साम्प्रदायिक सद्भाव प्रतिष्ठान द्वारा साम्प्रदायिक, जातीय, आतंकवाद तथा नक्सलवाद से संबंधित विवाद से प्रभावित बच्चों की सुरक्षा, पुनर्व्यवस्थापन तथा पालनपोषण के लिए कार्य करेंगी। समिति में पुलिस अधीक्षक श्री शैलेन्द्र सिंह चौहान, जिला शिक्षा अधिकारी श्री कैलाश सिंह राजपूत एवं महिला सशक्तिकरण अधिकारी सुश्री नीलम चौहान को सदस्य बनाया गया है। 


निरीक्षण के लिए समिति का गठन
शाजापुर, 29 जनवरी 2018/ कलेक्टर श्री श्रीकांत बनोठ द्वारा किशोर न्याय नियम के तहत बाल देखरेख संस्थाओं के निरीक्षण के लिए जिला निरीक्षण समिति का गठन किया गया है। समिति में बाल कल्याण समिति सदस्य श्रीमती सूर्यकांता शर्मा, महिला सशक्तिकरण अधिकारी सुश्री नीलम चौहान, सिविल सर्जन डॉ. शिवदयाल जायसवाल, सिविल समिति सदस्य श्रीमती संध्या शर्मा एवं शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. उमेश गौतम को रखा गया है। 


मान्यता निरन्तर रखने के लिए जानकारी अपलोड करें
शाजापुर, 29 जनवरी 2018/ जिला शिक्षा अधिकारी श्री के.एस. राजपूत ने वर्ष 2015-16 से अब तक मान्यता हेतु ऑनलाईन आवेदन नहीं करने वाली संस्थाओं को सूचित किया है कि यदि वे अपनी संस्था की मान्यता माध्यमिक शिक्षा मण्डल से निरन्तर रखना चाहते है तो एमपी ऑनलाईन पोर्टल पर 30 जनवरी तक जानकारी अपलोड करें। जानकारी जिला शिक्षा अधिकारी से सत्यापित कराना होगी। 
---- 

मध्यप्रदेश नागर ब्राह्मण परिषद की नवीन कार्यकारिणी घोषित,श्री नागर मिडिया प्रभारी मनोनीत 
शाजापुर। मप्र नागर ब्राह्मण परिषद की नवीन कार्यकारिणी की विधिवत घोषणा स्थानीय नागर धर्मशाला में की निर्वाचित प्रदेश अध्यक्ष श्री राजेन्द्र नागर द्वारा की गई जिसमे डॉ .हेमंत दुबे और अशोक व्यास को परिषद का महासचिव,श्रीमति शारदा मंडलोई को महिला मंडल प्रदेशाध्यक्ष तथा संजय नागर (शिक्षा विभाग) को युवक मंडल का प्रदेशाध्यक्ष तथा राजेश नागर को मिडिया प्रभारी के साथ ही अन्य पदाधिकारियों और सदस्यों की नियुक्ति की गई है। नवीन पदाधिकारियों का धर्मशाला में कार्यक्रम आयोजित कर पुष्पमाला पहनाकर स्वागत-सत्कार किया गया। इस मौके पर पदाधिकारियों ने कहा कि वे समाज विकास के लिए हमेशा तत्पर रहेंगे। साथ ही प्रदेश के प्रत्येक नागर परिवार को सदस्यता अभियान के तहत परिषद से जोडऩे का काम भी करेंगे। समाज के मुख पत्र हाटकेश्वर समाचार के नियमित प्रकाशन की व्यवस्था भी की जाएगी। साथ ही आर्थिक रूप से समाज के कमजोर परिवारों की बेटियों के विवाह हेतु कोष की स्थापना की जाएगी और समाज के मंदिरों एवं धर्मशालाओं के जीर्णोंद्धार हेतु योजना तैयार की जाएगी समाज में आर्थिक रुप से कमजोर परिवार को शिक्षा स्वास्थ्य, छात्रावास मे सहयोग हेतु कोष की स्थापना की जायेगी उच्च शिक्षा प्राप्त करनें और रोजगार के लिए शिविर आयोजित किये जायेंगे समाज का खुला अधिवेशन आयोजित किया जावेगा समाज मे ऐसे वृद्धजन जिनका परिवार मे कोई नही है उनकी देखभाल की व्यवस्था की जायेगी समाज में विघटन ,सम्बन्ध विच्छेद, पारिवारिक कलह आदि के लिए सामंजस्य स्थापित किया जायेगा युवाऔ को रक्तदान और समाज के सभी सदस्यो को आधार कार्ड बनाने के लिए प्रेरित किया जायेगा समाज मे सामूहिक विवाह,परिचय सम्मेलन, यज्ञोपवित संस्कार के साथ खेलकूद और महिलाऔ एवं बच्चों हेतु सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जायेगा इस कार्यक्रम मे बड़ी संख्या में समाज के लोग मौजूद थे कार्यक्रम का संचालन नवनियुक्त परिषद के महासचिव डाँ हेमन्त दुबे ने किया






Like us on Facebook

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए मालवा अभीतक के Facebook पेज को लाइक करें

Shahzad Khan

No comments:

Post a Comment

Powered by Blogger.