Breaking News
recent

VIDEO NEWS-तंत्र मन्त्र से पोने सात लाख के 11 करोड़ के चक्कर में ठगाया एक व्यक्ति, रिपोर्ट लिखवाने के लिए महीनो से काट रहा मक्सी थाने के चक्कर- मामला शाजापुर जिले का

Adjust the font size:     Reset ↕

विशेष संवाददाताशाजापुर। तंत्र मन्त्र से पोने सात लाख के 11 करोड़ के लालच में एक व्यक्ति ठगी का शिकार हुआ हे, जिसमे उसे ग्यारह करोड़ तो नही मिले लेकिन उसके पोने सात लाख रुपए जरुर हाथ से चले गए, साथ ही पोने सात लाख इकट्ठा करने के लिए जमीन
और ट्रेक्टर गिरवी रखे थे वो भी अब हाथ में नही हे, मामले में दिलचस्प बात ये हे की ठगी के बाद फरियादी थाने पंहुचा टीआई आरएस बरडे को पूरी बात बताई, आवेदन दिया रिकर्डिंग सुनाई, सीडी बना के दी बावजूद इसके टीआई ने 6 माह तक इस मामले में रिपोर्ट नही की
हर बार आश्वासन- आपको बता दे की जिले के मक्सी थाना क्षेत्र के निवासी कुछ लोगों द्वारा देवास जिले के ग्राम पीपलरावां निवासी एक व्यक्ति को 11 करोड़ रुपए देने का लालच देकर करीब पोने सात लाख रुपए की ठगी कर ली। मामले में पीड़ित ठगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने के लिए छ माह से मक्सी थाने के चक्कर लगा रहा है किंतु अब तक रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई। शनिवार को भी फरियादी परिजन के साथ दिनभर थाने पर थाने पे बैठा रहा, टीआई दिनभर आश्वासन देते रहे की बस अब रिपोर्ट लिखते लिखते हे कहते कहते रात 10 बजे विभाग का आदेश दिखाते हुए बोले की मुझे ट्रेनिग पे जाना हे, इसलिए तुम 9 तारीख को आ जाना रिपोर्ट कर लूँगा,

 ये हे मामला - जानकारी अनुसार पीपलरावां निवासी नजीम पिता सत्तार खां की भैंस अगस्त 2017 में बीमार हो गई थी। इस पर उसके साथी ने मक्सी निवासी हमीद पिता गफ्फार खां के बारे में बताया। कहा कि हमीद जानकार है, वह उसकी भैंस को बिल्कुल ठीक कर देगा। इस पर नजीम दो दोस्तों के साथ मक्सी पहुंचा और हमीद के घर गया। यहां हमीद ने उसे बताया कि एक नागा बाबा हैं वो तुम्हारी सारी परेशानी दूर कर देंगे। उन्होंने बाबा से संपर्क कर मुझे 51 हजार रुपए लेकर बुलाया। 3 अगस्त को फिर मैं दोस्तों के साथ मक्सी आया 51 हजार रुपए लेकर हमीद के घर गया और रुपए उसे दे दिए। फिर हमीद हमें एक बाबा के पास लेकर गया। बाबा पूजा कर रहा था, उसने पहले एक खाली झोला दिखाया फिर झोले में से नोट निकाल कर दिखाए। इसके बाद फिर हमीद का फोन आया और उसने कहा कि बाबा ने तुम्हारी 11 करोड़ की अर्जी कबूल कर ली है। उसने हमसे सवा छह लाख रुपए लेकर आने को कहा। मैंने कहा कि इतने रुपए मेरे पास नही हैं तो हमीद ने धमकाया कि बाबा तुम्हारा सर्वनाश कर देंगे। इस पर मैं डर गया और रुपए की व्यवस्था कर 6 अगस्त 2017 को हमीद के पास पहुंचा और रुपए उसे दे दिए। वह हमें फिर से बाबा के पास लेकर गया। इस बार हम गुजरात गए यहां हमीद ने एक सूटकेस बाबा के पास से लाकर हमें दिया और कहा कि इसमें लक्ष्मी है। जब हम बोले तब ही घर सूटकेस खोलना। 9 अगस्त को हमीद से पूछा कि सूटकेस कब खोलना है तो वह बोला बाबा से बात करके बताता हूं। थोड़ी देर बाद बाबा का फोन आया तो उन्होंने बोला कि तूने पूजा सही से नहीं की, इसलिए तेरी लक्ष्मी लाल हो गई। इस पर मैंने दो लोगों के सामने सूटकेस खोला तो उसमे लालरंग के कागज निकले। ऐसा होने के बाद में मक्सी आया और मामले में तत्काल मक्सी पुलिस को शिकायत की किंतु आज तक रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई। फरियादी नाजिम ने बताया की इस मामले में हमने हमीद व अन्य लोगों से हुई बातचीत की रिकॉर्डिंग भी मक्सी पुलिस को दे दी। मामले में मेरे दोस्तों व मेरे बयान भी पुलिस ने ले लिए, फिर अब तक केस दर्ज नहीं हो सका। शिकायत दर्ज कराने के लिए में 3 फरवरी को भी दिनभर थाने पर ही रहा टीआई साहब टालते रहे फिर रात 10 बजे हमें कहा की 4 दिन की ट्रेनिंग के बाद आपका मामला देख लेता हु, 
जिले में फिर चर्चा में मक्सी टीआई- ठगी के 6 माह बीत जाने के बाद भी मामले की रिपोर्ट नही लिखने पर मक्सी टीआई फिर जिले में लोगो की जुबान पर चर्चा में हे, उल्लेखनीय हे मक्सी टीआई की कार्यप्रणाली काफी दिनों से जिले में चर्चा में है। टीआई की कार्यप्रणाली को लेकर मुख्यमंत्री, डीजीपी और एसपी तक से शिकायत की जा चुकी है। और अब ये लाखो की ठगी का मामला सामने आया हे जिसमे भी फरियादी थाने के चक्कर लगा लगा के परेशान हो गया हे, आपको बता दे की मक्सी थाना क्षेत्र में अवैध शराब के विक्रय पर एसपी द्वारा गत माह पूर्व दो एएसआई को निलंबित किया। एसपी के औचक निरीक्षण में दस पुलिस अधिकारी और कर्मचारी थाना मुख्यालय पर नही मिले, जिस पर सभी को एसपी द्वारा लाइन अटैच किया गया। थाना क्षेत्र में सट्टा-जुआ जोरों पर चल रहा है। कुछ दिन पहले ही एसपी के निर्देश पर शाजापुर से पहुंची पुलिस ने टीम ने मक्सी में सट्टा पकड़ा। इसके अलावा दो महिलाओं द्वारा मक्सी टीआई पर लेनदेन के आरोप लगाए। इनमें एक महिला द्वारा मुख्यमंत्री, डीजीपी और एसपी तक को शिकायत की। मक्सी एबी रोड किनारे का अतिक्रमण एक बार स्वयं एसपी ने हटवाया और एक बार शाजापुर से आई टीम ने हटवाया आदि अनेको ऐसे मामले हे जिनके चलते टीआई की कार्यप्रणाली चर्चा में है। इन सभी के चलते अभी भी मक्सी टीआई थाने पर जमे हुए हे, जबकि जिले के सख्त एसपी ने कुछ माह पूर्व काम में लापरवाही और अवेध गतिविधियों को सरक्षण देने वालो पर कार्यवाही करते हुए उन्हें लाइन हाजिर कर दिया हे, ऐसे में जब मक्सी थाने के मामले लगातर सामने आने पर और कोई कार्यवाही नही होंने पर जिले के पुलिसकर्मियों में भी अनेको प्रकार की चर्चाये शुरू हो गई हे


Like us on Facebook

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए मालवा अभीतक के Facebook पेज को लाइक करें

Shahzad Khan

No comments:

Post a Comment

Powered by Blogger.