Breaking News
recent

Advertisement

शाजापुर 3 जून डायरी(प्रसासनिक खबरें

Adjust the font size:     Reset ↕

जिला दिव्यांग पुनर्वास केन्द्र संचालन करने वाली समिति को नोटिस
शाजापुर, 03 जून 2018/ सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री श्री थावरचंद गेहलोत द्वारा 31 मई 2018 को जिला दिव्यांग पुनर्वास केन्द्र शाजापुर का निरीक्षण के दौरान संस्था के संचालन एवं विभिन्न अभिलेखों के रख-रखाव में अनियमितता पाए जाने से अप्रसन्नता व्यक्त की थी। इसे देखते हुए उपसंचालक सामाजिक न्याय द्वारा जिला दिव्यांग पुनर्वास केन्द्र संचालित करने वाली संस्था म.प्र. विकलांग सहायता समिति उज्जैन को संस्था के कार्य में उदासिनता एंव लापरवाही बरतने  एवं गम्भीरता पूर्वक संस्था का संचालन नहीं करने के कारण नोटिस दिया है। 
उल्लेखनीय है कि जिला विकलांग पुनर्वास केन्द्र शाजापुर के संचालन का दायित्व जिला रेडक्रास सौसायटी के माध्यम से म.प्र. विकलांग सहायता समिति-उज्जैन को सौंपा गया हैं।  संस्था द्वारा सौंपे गये दायित्व का निर्वहन भारत सरकार की गाईड लाईन के अनुसार नहीं किया जा रहा हैं। संस्था द्वारा उपलब्ध कराई गई 7.00 लाख रूपये की राशि का उपयोगिता प्रमाण-पत्र भी बार-बार निर्देश दिए जाने के उपरान्त भी प्रस्तुत नहीं किया गया है। इस संबंध में संस्था को 3 दिवस में स्पष्टीकरण देने के लिए कहा गया है।
--------------------
किसानों को टोकन लेने के लिये उपज लाने की आवश्यकता नहीं
चना, मसूर और सरसों की खरीद के लिये जारी किये गये निर्देश

शाजापुर 3 जून 2018/प्रदेश में रबी विपणन वर्ष 2018-19 में समर्थन मूल्य पर चना, मसूर एवं सरसों की खरीदी का कार्य 9 जून 2018 तक होगा। इसके लिए किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग ने जिला कलेक्टर्स को विस्तृत निर्देश जारी किये हैं। निर्देशों में स्पष्ट किया गया है कि किसान को टोकन लेने के लिए उपज लेकर आने की आवश्यकता नहीं होगी। एक किसान से 40 क्विंटल मात्रा की खरीदी के लिए टोकन जारी किये जायेंगे। अपरिहार्य परिस्थिति में 40 क्विंटल से अधिक मात्रा क्रय किये जाने की आवश्यकता होने पर डीएसओ लॉगिन में पृथक से प्रावधान किया जायेगा, जिसका टोकन नंबर भी पृथक होगा।
निर्देश में कहा गया है कि अधिक उपार्जन वाले केन्द्रों में कलेक्टर के माध्यम से पृथक अधिकारी नामांकित किये जायें। प्रदेश की ऐसी कृषि उपज मंडियों और केन्द्रों में, जहाँ उपार्जन कम मात्रा में हो रहा है, वहाँ समिति प्रबंधक को नोडल अधिकारी नामांकित किया जा सकेगा। नोडल अधिकारी को ई- उपार्जन सॉफ्टवेयर में लॉगिन पासवर्ड दिया जायेगा, जो उसके मोबाइल नंबर पर प्रेषित किया जायेगा। कलेक्टर्स को जारी निर्देशों में कहा गया है कि नोडल अधिकारी मंडियों में रहकर टोकन जारी करवायेंगे। साथ ही, किसानों को टोकन देने के पूर्व संबंधित किसान के परिचय पत्र और आधार कार्ड के माध्यम से वास्तविकता की पुष्टि करेंगे। टोकन 6 जून को दोपहर 12 बजे से 7 जून की मध्य रात्रि 12 बजे तक जारी किये जा सकेंगे। इस व्यवस्था में कोई किसान टोकन पाने में वंचित रहता है, तो संबंधित कलेक्टर की अनुमति से 8 जून को रात्रि 12 बजे से 9 जून को शाम 5 बजे तक टोकन जारी किये जा सकेंगे। उपार्जन केन्द्रों पर 7 जून को शाम 5 बजे से सामान्य खरीदी बंद होगी। इसके बाद 9 जून को रात्रि 12 बजे तक टोकन के माध्यम से खरीदी की जायेगी। इन तिथियों के बाद कलेक्टर की अनुशंसा पर संचालक खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति द्वारा अनुमति दी जा सकेगी।
संबंधित दिशा-निर्देश सभी उपार्जन केन्द्रों और मंडियों में भेज दिये गये हैं। निर्देशों में यह सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है कि संपूर्ण खरीदी व्यवस्था के दौरान किसानों की सुविधाओं का विशेष ध्यान रखा जाये।
--------------------

उपार्जित की गई उपज का शीघ्र परिवहन करें
शाजापुर 3 जून 2018/ रबी विपणन वर्ष 2018-19 में समर्थन मूल्य पर चना, मसूर एवं सरसों की खरीदी उपरान्त तत्काल परिवहन कराए। उक्त निर्देश कलेक्टर श्री श्रीकांत बनोठ ने सभी उपार्जन केन्द्रों के प्रभारियों एवं जिला विपणन केन्द्र एवं नागरिक आपूर्ति निगम के प्रबंधक को दिए है। 
कलेक्टर श्री बनोठ ने सभी उपार्जन केन्द्रों के प्रभारियों को निर्देश दिए है कि वे चना,मसूर एवं सरसों खरीदी केन्द्रो पर पर्याप्त त्रिपाल इत्यादि के इंतजाम रखें। उपार्जित स्कन्ध के स्टैक  लगवाकर रखवाए, मंडीमें उपलब्ध शेड में ही स्टैक लगवाए, मंडी में उपलब्ध शेड अनुसार अन्य परिसर के केंद्र मंडी में शिफ्ट किये जा सकते  है। परिवहनकर्ताओं को तत्काल अधिक से अधिक ट्रक लगवाने के लिए पाबंद करे और परिवहन में अपेक्षित प्रगति लाना सुनश्चित  करे।



Like us on Facebook

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए मालवा अभीतक के Facebook पेज को लाइक करें

Shahzad Khan

No comments:

Post a Comment

Powered by Blogger.