Breaking News
recent

Advertisement

फसल बीमा में कम्पनी ओर पटवारी ने की गड़बड़ी, किसान पहुचे शाजापुर कलेक्टर के पास

Adjust the font size:     Reset ↕

मक्सी- फसल बीमा नही मिलने से परेशान सेकड़ो किसान मंगलवार को कलेक्टर श्रीकांत बनोठ के पास जनसुनवाई में पहुचे ओर पीड़ा बताई एव ज्ञापन देकर उचित कार्यवाही की मांग की । ज्ञापन का वाचन करते हुए किसानों ने कलेक्टर को बताया कि हम समस्त कृषकगण निवासी ग्राम सिरोलिया, कपालिया, सिहोदा, सामगी एवं मक्सी, आदि स्थानों के कृषक है । महोदय, वर्ष 2017 के खरीफ सिजन में हम सभी किसानों ने अपने अपने खेतों में सोयाबीन की फसल बोई थी, क्षैत्र में अल्पवर्षा के कारण सोयाबीन की फसल को व्यापक नुकसान हुआ था जिसका सिधा असर मण्डी की आवक पर भी पड़ा था जिससे स्पष्ट है कि उत्पादन बहुत ही कम हुआ था एवं किसानों को भारी नुकसान उठाना पड़ा था ।
महोदय, क्षैत्र के लगभग 765 किसानों ने जिला सहकारी संस्था मक्सी के माध्यम से अपनी उपरोक्त फसल का बिमा करवाया था जिस हेतु किस्त उनके खातों से काटी गई थी जिसकी राशी लगभग 17 लाख होती है । क्षैत्र के 5 गावों में लगभग 3 हजार हैक्टर भूमि पर बुआई की गई थी जिसमें से अधिकांश भूमि पर अल्पवर्षा एवं जमीनी कीड़ा (व्हाई ग्रेब) के कारण भारी नुकसान होकर उत्पादन बहुत ही कम हुआ था । परन्तु पांच गांव के एक भी किसान को फसल बिमा का लाभ आज तक नही मिला है।
महोदय वर्ष 2017 की खरीफ फसल के दौरान मक्सी एवं सिरोलिया क्षैत्र में पटवारी तेजसिंह हनोतीया पदस्थ थे । पटवारी हनोतीया द्वारा प्लाट निर्माण कर उपज का निर्धारण करने में भारी धांधली की है । श्री हनोतीया ने ग्वालीयर से रेन्डम निकाले गये सर्वे नम्बरों के स्थान पर आस पास के अच्छे खेतों में प्लाट स्थापित कर दिये वही जिन खेतों में प्लाट स्थापित किये वहां भी अच्छे उत्पादन वाला भाग देखकर प्लाट बनाया गया जिसके चलते उत्पादन का सही आकलन नही हो सका एवं अधिकांश प्लाट में उत्पादन अच्छा पाया गया जबकि वास्तवीक स्थिती इससे बिलकुल उलट थी एवं क्षैत्र में उत्पादन बहुत ही कम हुआ था ।
महोदय, उत्पादन बहुत ही कम होने के कारण किसानों को भारी आर्थीक हानी उठानी पड़ी थी वहीं फसल बीमा की किस्त की राशी भी किसानों द्वारा जमा करवाई गई थी ऐसे में किसानों पर दोहरी मार पड़ी है । परन्तु भ्रष्टाचार के कारण किसानों को हुए नुकसान की भरपाई नही हो सकी ।  निवेदन है कि शासन की ओर से किसानों को उचित सहायता राशि उपलब्ध करवाने एवं भविष्य में फसल बीमा से सम्बन्धी प्लाट निर्माण में अधिक पारदर्शीता रखी जाने एंव उपरोक्त प्रकरण में दोषियों के विरूद्ध कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाए 

Like us on Facebook

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए मालवा अभीतक के Facebook पेज को लाइक करें

Shahzad Khan

No comments:

Post a Comment

Powered by Blogger.