Layout Style

Full Width Boxed

Background Patterns

Color Scheme

Top Ad unit 728 × 90

Trending

random

शाजापुर में मिलादुन्नबी पर निकला भव्य जुलूस- लंगर का आयोजन भी हुआ

शाजापुर। नबीयों में सबसे अफजल रूतबा मेरे नबी का, नूर वाला आया है, मुस्तफा जाने रहमत पे लाखों सलाम... सहित अन्य नात और सलाम की धुन के साथ सोमवार को बारह रबीउल अव्वल यानि कि रसूले पाक के जन्म दिन पर मुस्लिम समाजजनों ने नगर में भव्य जुलूस कमेटी के सदर बाबु खान खरखरे के नेतृत्व में निकाला।
जुलूस के पूर्व बादशाही पुल स्थित शाही जामा मस्जिद में कुरआन की तिलावत कर तबर्रूक बांटा गया। फिर शुरू हुआ जुलूस जो नगर के मीरकला बाजार, आजाद चौक, नई सड़क, कृष्ण टॉकिज चौराहा, फव्वारा चौक, टेंशन चौराहा, काछीवाड़ा, मगरिया चौराहा, सोमवारिया बाजार, छोटा चौक, किला रोड होता हुआ पुन: मस्जिद पहुंचकर संपन्न हुआ। सीरत कमेटी की अगवानी में निकले जुलूस का जगह-जगह पुष्पवर्षा कर स्वागत किया गया।
उल्लेखनीय है कि 12 रबीउल अव्वल के दिन पेगंबर हजरत मोहम्मद साहब की पैदाईश हुई थी, जिसे मुस्लिम समाजजनों द्वारा ईदों की ईद कहा जाता है और इस जश्न को ईदे मिलादुन्नबी के रूप में मनाया जाता है। इसीके चलते सोमवार को शाही जामा
 मस्जिद से मुस्लिम समाजजनों ने खुशियां मनाते हुए जुलूस निकाला। इस दौरान मुस्लिम समाजजन पेगंबर साहब की खिदमत में दरूद और सलाम पेश कर रहे थे। सुबह लगभग 9 बजे से शुरू हुए इस जुलूस में काजी मोहसिनउल्ला, काजी एहसानउल्ला, सलीम ठेकेदार, रफीक पेंटर, शेख शमीम, अजीज मंसूरी, हबीब कुरैशी, सोहराब बेग, शकिल वारसी, अकिल वारसी, अकरम शाह, आसिफ बेग, मुन्ना भाई सहित हजारों की संख्या में मुस्लिम समाज के लोग शामिल थे।

शाजापुर में मिलादुन्नबी पर निकला भव्य जुलूस- लंगर का आयोजन भी हुआ Reviewed by Anonymous on 12/12/2016 Rating: 5

Copyright © Malwa Abhi Tak
Devloped By Sai Web Solution

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.