Layout Style

Full Width Boxed

Background Patterns

Color Scheme

Top Ad unit 728 × 90

Trending

random

शाजापुर डायरी - 13 दिसंबर शाम 4 बजे तक की प्रसासनिक खबरे

चायना डोर के विक्रय एवं उपयोग पर प्रतिबंध
शाजापुर, 13 दिसम्बर 2017/पतंगबाजी में चायना डोर के उपयोग से आम जनता एवं पशु-पक्षियों के जीवन को बचाने के लिए कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी श्री श्रीकांत बनोठ ने भारतीय दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के तहत चायना डोर के उपयोग एवं विक्रय पर तत्काल प्रभाव से प्रतिबंध लगाया है। 
उल्लेखनीय है कि जिले में मकर संक्रांति पर्व पर पतंगबाजी करने की परम्परा है साथ ही वर्तमान में भी पतंगबाजी में चायना डोर का उपयोग हो रहा है। चायना डोर के कारण विभिन्न घातक दुर्घटनाएं सामने आई है। दुर्घटनाओं को देखते हुए जिला दंडाधिकारी द्वारा चायना डोर के उपयोग का 12 दिसम्बर 2017 से 31 मार्च 2018 तक प्रतिबंध लगाया है। इस अवधि में कोई भी व्यक्ति पतंगबाजी के लिए चायना डोर का उपयोग एवं संग्रहण नही कर सकेगा, साथ ही पतंगो की दुकानों पर चायना डोर न तो विक्रय के लिए रखी जा सकेगी और ना ही विक्रय किया जा सकेगा। धारा 144 के तहत लगाए गए प्रतिबंध लोकहित में एक पक्षीय रूप से जारी किए गए है। कोई भी व्यक्ति आदेश का उल्लंघन करता है तो उसके विरूद्ध धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी।
क्रमांक 39/1128

आर्थिक सहायता
शाजापुर, 13 दिसम्बर 2017/शुजालपुर तहसील के ग्राम रिछोदा निवासी संजय पिता अर्जुन सिंह उम्र 22 वर्ष की मृत्यु 15 जुलाई को खेत में करंट लगने से होने के कारण कलेक्टर श्री श्रीकांत बनोठ ने मुख्यमंत्री कृषक कल्याण योजना के तहत मृतक के वैध वारिस माता चन्द्रकलां बाई पति अर्जुन सिंह के लिए 4 लाख रूपये की आर्थिक सहायता स्वीकृत की है। 
इसी तरह देवास के टोंकखुर्द के ग्राम भीलखेड़ी निवासी सोनसिंह पिता नगजीराम की मृत्यु 25 मार्च 2017 को रोडेश्वरी माता मंदीर के सामने मोटर साईकिल दुर्घटना से होने के कारण उसके वारिस नगजीराम पिता तौलाराम के लिए 15 हजार रूपये की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है।
क्रमांक 40/1129

स्वरोजगार के लिए आवेदन करें
शाजापुर, 13 दिसम्बर 2017/विमुक्त घुमक्कड़ एवं अर्द्ध घुमक्कड़ जनजाति वर्ग के व्यक्तियों को स्वयं का उद्योग, सेवा या व्यवसाय करने हेतु बैंकों के माध्यम से ऋण उपलब्ध कराए जाने हेतु संचालित मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना एवं मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना से लाभ प्राप्त करने के लिए जरूरतमंद हितग्राहियों से  आवेदन आमंत्रित किए गए है। इच्छुक हितग्राही जिला मुख्यालय स्थित पिछड़ा वर्ग तथा अल्प संख्यक कल्याण विभाग से संपर्क कर स्वरोजगार के लिए आवेदन कर सकते है। मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना अंतर्गत 50 हजार से 10 लाख रूपये तक एवं मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना अंतर्गत परियोजना लागत अधिकतम 50 हजार रूपये की बैंकों के माध्यम से ऋण के रूप में आर्थिक सहायता दी जाती है। दिए गए ऋण पर मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में परियोजना लागत की 30 प्रतिशत अधिकतम 2 लाख रूपये तथा आर्थिक कल्याण योजना में अधिकतम 15 हजार रूपये का अनुदान दिया जाता है। योजना से संबंधित अधिक जानकारी के लिए संबंधित विभाग के कार्यालय से संपर्क किया जा सकता है।
क्रमांक 41/1130
शाजापुर डायरी - 13 दिसंबर शाम 4 बजे तक की प्रसासनिक खबरे Reviewed by Anonymous on 12/13/2017 Rating: 5

Copyright © Malwa Abhi Tak
Devloped By Sai Web Solution

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.