Layout Style

Full Width Boxed

Background Patterns

Color Scheme

Top Ad unit 728 × 90

Trending

random

फर्जी केसीसी खाता खोलने एवं ऋण चढ़ाने की जांच के लिए कलेक्टर ने दिए निर्देश, - इस खबर के साथ आज दिनभर की अनेक खबरे भी पड़े

शाजापुर, 05 फरवरी 2019/पांच वर्ष पूर्व मृत जेठ के नाम से रिछोदा सोसायटी द्वारा फर्जी केसीसी खाता खोलने एवं रूपयों का ऋण चढ़ाने की शिकायत की जांच करने के लिए कलेक्टर श्री श्रीकांत बनोठ ने महाप्रबंधक सीसीबी को निर्देश दिए हैं। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री जनसुनवाई कार्यक्रम के तहत आज संपन्न हुई जनसुनवाई में ग्राम रिछोदा की रीना पति रणजीत सिंह ने आवेदन देकर शिकायत की है कि उसके जेठ जसमत सिंह पिता रूपसिंह की मृत्य 17 जून 2013 को हो चुकी है। लेकिन इनके नाम पर सोसायटी रिछोदा द्वारा कूट रचनाकर केसीसी खाता चलाया जा रहा है। इसी तरह रिछोदा के ही बाबूसिंह पिता गोपालसिंह ने भी आवेदन दिया है कि रिछोदा सोसायटी द्वारा खाते में लिए गए ऋण से अधिक की राशि बताई जा रही है। साथ ही उसने शिकायत की है कि 2016-17 की फसल बीमा राशि भी खाते से काटी गई थी, वह राशि भी बिना उनके हस्ताक्षर के निकाल ली गई है। इसकी जांच करने के निर्देश कलेक्टर ने भू-अभिलेख अधीक्षक को दिए हैं। रिछोदा के बाबूसिंह ने भी लिए गए ऋण राशि से अधिक सूची में प्रदर्शित होने तथा बिकलाखेड़ी के शंकरसिंह ने लिए गए ऋण से सूची में कम राशि प्रदर्शित होने की शिकायत की।  
उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री जनसुनवाई कार्यक्रम के तहत आज सम्पन्न हुई जनसुनवाई में कुल 116 आवेदन प्राप्त हुए। जनसुनवाई कलेक्टर श्री श्रीकांत बनोठ ने की। जनसुनवाई में मुख्य रूप से झोकर की श्रीमती निशा सोनी ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत ऋण प्रदान करने, मेहंदी की सुगना बाई ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवास प्रदान करने, सांपखेड़ा के रसीद खॉ ने उसकी खड़ी फसलों में से ओटले के पुजारी द्वारा जबरन रास्ता निकालने, शाजापुर की जुबेदा बी व मक्सी की सीमाबाई ने आर्थिक सहायता प्रदान करने, चौकी मुरादाबाद के अर्जुन सिंह एवं अन्य ग्रामीणों ने कब्जे की भूमि पर सरपंच द्वारा जबरन मांगलिक भवन बनाने, दिल्लौद के हरिसिंह ने रिकार्ड में भूमि का नम्बर इंद्राज करने, शाजापुर की उर्मिलाबाई ने रजिस्ट्री के माध्यम से क्रय की गई भूमि का नामांतरण नहीं होने, बड़नपुर की शारदा बाई ने विकलांगता पेंशन प्रदान करने, बावड़िया मैना के दिनेश कुमार ने दलाल से संपर्क नहीं करने कारण बैंक ऑफ इण्डिया की शाखा द्वारा ऋण नहीं देने, पतौली की ललीता पंवार ने सीमांकन कराने, बावड़िया मैना के विनोद ने अन्य व्यक्ति द्वारा मंदिर की भूमि पर जबरन कब्जा करने, पलासी सोन के बनेसिंह ने पंचायत सचिव एवं सरपंच द्वारा आवास नहीं देने, सामगीबोर्डी बाबूलाल ने विरोधी पक्ष द्वारा मुख्यमंत्री हेल्पलाईन 181 पर बार-बार झूठी शिकायत करने, ताजपुर गौरी के ग्रामवासियों ने सरकारी हैण्डपम्प पर अन्य व्यक्ति द्वारा कब्जा करने, तिंगजपुर के प्रेमनारायण ने अन्य व्यक्ति द्वारा आवागमन का रास्ता वाधित करने सहित अन्य व्यक्तियों द्वारा विभिन्न प्रकार की शिकायतों के आवेदन दिये।
इस मौके पर अनुविभागीय अधिकारी श्री यू.एस. मरावी, डिप्टी कलेक्टर सुश्री प्रियंका वर्मा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे।  
-----------------------

तीन जरूरतमंदो को 14 हजार रूपये की आर्थिक सहायता
शाजापुर, 05 फरवरी 2019/मुख्यमंत्री जनसुनवाई कार्यक्रम के तहत आज सम्पन्न हुई जनसुनवाई में कलेक्टर श्री श्रीकांत बनोठ द्वारा तीन जरूरतमंदो के लिए रेडक्रास सोसायटी से 14 हजार रूपये की आर्थिक सहायता स्वीकृत कर चैक प्रदान किए गए। 
जनसुनवाई में पौचानेर ग्राम पंचायत के ग्राम गाडराखेड़ी निवासी प्रेमनारायण पिता सोहन सिंह ने आवेदन देकर बताया कि बीमारी के ईलाज में उसके लगभग 19 हजार रूपये खर्च हो गए हैं, जबकि वह आर्थिक रूप से काफी कमजोर है, कलेक्टर ने उपचार पर किए गए व्यय के लिए रेडक्रास सोसायटी मद से 10 हजार रूपये की आर्थिक सहायता स्वीकृत कर हाथो-हाथ चैक प्रदान किया। इसी तरह आर्थिक रूप से कमजोर बर्डियासोन की राजूबाई के लिए दो हजार रूपये तथा बागली के दृष्टिहीन देवीलाल के लिए दो हजार रूपये की आर्थिक सहायता  रेडक्रास सोसायटी मद से स्वीकृत कर चैक प्रदान किए गए। 
-----------------------

कालापीपल में 27 फरवरी को मुख्यमंत्री सामूहिक कन्या विवाह सम्मेलन का आयोजन 
       शाजापुर 05 फरवरी 2019/ मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजनांतर्गत जनपद पंचायत कालापीपल में 27 फरवरी 2019 को सर्वधर्म सामुहिक विवाह सम्मेलन आयोजित किया जाएगा। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत कालापीपल ने जिले के सरपंच, सचिव, रोजगार सहायको को ग्राम पंचायत क्षेत्र में पात्र वर-वधू के आवेदन 22 फरवरी 2019 तक जनपद पंचायत कालापीपल में पंजीयन कराने एव ंसम्मेलन का ग्रामों में प्रचार-प्रसार करने के कहा गया है। 
       उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री कन्या विवाह/निकाह योजना की राषि बढ़ाकर 51 हजार रूपये की गई है। योजनान्तर्गत इस राषि में से 3 हजार रूपये विवाह कार्यक्रम, 5 हजार रूपये सामग्री हेतु तथा षेष 43 हजार रूपये की राषि कन्या के बचत खाते में जमा कराई जाएगी। आदिवासी अंचलों में जनजातियों में प्रचलित विवाह प्रथा के अंतर्गत होने वाले विवाह चाहे वह सामूहिक हो या एकल विवाह हो, कन्या विवाह सहायता राषि प्रदाय की जावेगी। षासन द्वारा आयोजित सामूहिक विवाह कार्यक्रमों के अंतर्गत कन्या विवाह/निकाय सहायता राषि का लाभ प्राप्त करने हेतु आय सीमा का बंधन समाप्त किया गया है। 
-----------------------
 
दो दिवसीय रोजगार मेले में 290 अभ्यर्थियों का प्राथमिक चयन
रोजगार अवसर मेला संपन्न
        शाजापुर 05 फरवरी 2019/स्थानीय पं बालकृष्ण शर्मा ‘नवीन’ शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में स्वामी विवेकानंद कॅरियर मार्गदर्शन प्रकोष्ठ के अंतर्गत संपन्न हुए दो दिवसीय रोजगार अवसर मेले में 290 अभ्यर्थियों का प्राथमिक चयन हुआ। जबकि 495 अर्भ्यिर्थयों द्वारा पंजीयन कराया गया है। समापन अवसर पर श्री बाबूखां खरखरे मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद थे। समारोह में विशेष अतिथि के रूप में अनुविभागीय अधिकारी श्री यू.एस. मरावी, सी.एम.ओ. श्री भूपेन्द्र दीक्षित, जिला उद्योग केन्द्र प्रबंधक श्री श्रेयस गोखले, श्री राजीव दुबे, श्री श्याम टेलर तथा विधि महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. एम.के. कनेरिया उपस्थित थे।
        कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि श्री खरखरे ने महाविद्यालय की गतिविधियों की सराहना की। अनुविभागीय अधिकारी श्री मरावी ने विद्यार्थियों को सलाह दी कि सरकारी योजनाओं में भागीदारी कर रोजगार एवं स्वरोजगार के अवसर तलाशें। इस अवसर पर उन्होंने कंपनियों से आग्रह किया कि वे चयनित विद्यार्थियों का उत्साहवर्धन करें तथा समुचित वेतन के साथ उचित कार्य करायें। प्राचार्य डॉ. एस.के.मेहता ने विद्यार्थियों से इस तरह के कार्यक्रमों में भागीदारी की अपील करते हुए अवसर का लाभ उठाने की बात कही।
        कार्यक्रम का शुभारंभ मॉ सरस्वती एवं स्वामी विवेकानंद के चित्र पर पुष्पहार एवं दीप प्रज्जवलित कर किया गया। कार्यक्रम की उपलब्धियों एवं आगामी कार्ययोजना की रूपरेखा संयोजक डॉ. आर.सी. चौहान ने रखी। श्री राजीव दुबे ने कार्यक्रम की सराहना करते हुए युवाओं को हुनरमंद होने की सलाह दी साथ ही इस अवसर पर उन्होंने जरूरत मंद गरीब विद्यार्थियों की फीस भरने की इच्छा भी जताई। सी.एम.ओ श्री भूपेन्द्र दीक्षित ने महाविद्यालय में संसाधन उपलब्ध कराने के साथ-साथ परिसर को सुरक्षित एवं हरित बनाने में सहयोग का वादा किया। 
       रोजगार अवसर मेंले में प्रतिभा सिन्थेटिक्स पीथमपुर, ड्रीम विवर इन्दौर, रिलायंस जियो इन्फो कोम शाजापुर, कियोस्क कार्प शाजापुर एवं एस.बी. लाईफ शाजापुर की कंपनियॉ उपस्थित रही। इस अवसर पर 495 पंजीयन किये गये। जिसमें से 290 अभ्यार्थियों का प्राथमिक चयन किया गया। श्री बी.एल.गुवाटिया प्रभारी रोजगार कार्यालय और मेला समिति के सदस्य प्रो. शकीला खान, डॉ. बी.के.सोलंकी, डॉ. व्ही.पी. मीणा, डॉ. दिनेश निंगवाल, प्रो. आई.एस.परमार आदि का सराहनीय योगदान रहा। इस अवसर पर  शामिल कंपनियों मीडियाकर्मियों एवं भागीदारी कर रहे समस्त सदस्यों के प्रति डॉ. एस.एस.जामोद ने आभार माना और संचालन डॉ. बी.एस.विभूति ने किया। 
-----------------------

उत्कृष्ट विद्यालय परिसरों में छात्र-छात्राओं के लिये बनेंगे छात्रावास
41 जिलों में छात्रावास निर्माण पर खर्च होंगे 316 करोड़ 
        शाजापुर 05 फरवरी 2019/लोक निर्माण विभाग द्वारा स्कूल शिक्षा विभाग के अंतर्गत 41 जिला मुख्यालयों में संचालित छात्र-छात्राओं के लिये 82 छात्रावासों बनाये जाएंगे। इस कार्य पर करीब 316 करोड़ 11 लाख रुपये की राशि खर्च की जायेगी। भोपाल के शिवाजी नगर स्थित सुभाष उत्कृष्ट विद्यालय में स्कूल शिक्षा विभाग की इस योजना में छात्रावासों का पूर्व से ही संचालन किया जा रहा है। लोक निर्माण मंत्री श्री सज्जन सिंह वर्मा ने मंजूर किये गये सभी छात्रावास भवनों के निर्माण कार्यों को गुणवत्ता के साथ नियत समय में पूरा किये जाने के निर्देश दिये हैं।
        प्रदेश के 41 चयनित जिलों में कक्षा-10वीं की बोर्ड परीक्षा में श्रेष्ठ अंक हासिल करने वाले विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता दिलाने के लिये स्कूल शिक्षा विभाग ने उत्कृष्ट विद्यालय परिसर में छात्रावास संचालन की योजना बनाई है। जिला मुख्यालय के उत्कृष्ट विद्यालय परिसर में 100-100 सीटर क्षमता के बालक-बालिका छात्रावास निर्मित किये जा रहे हैं। बालक छात्रावास 3 करोड़ 85 लाख और बालिका छात्रावास करीब 3 करोड़ 86 लाख रुपये लागत से निर्मित होंगे। लोक निर्माण विभाग की परियोजना क्रियान्वयन इकाई द्वारा निर्मित छात्रावास सर्व-सुविधायुक्त होंगे। इनमें लायब्रेरी, कम्प्यूटर लैब, ट्रेनिंग सेंटर और प्रसाधन-कक्ष होंगे। छात्रावासों को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि विद्यार्थियों को पढ़ाई के लिये उचित वातावरण मिल सके।
       उत्कृष्ट विद्यालय के सभी स्वीकृत कार्यों की निविदाएँ आमंत्रित कर ली गई हैं। जिन 41 जिलों में यह छात्रावास मंजूर हुए हैं, उनमें अशोकनगर, बालाघाट, बैतूल, भिण्ड, बुरहानपुर, छतरपुर, छिन्दवाड़ा, दमोह, दतिया, देवास, गुना, ग्वालियर, हरदा, होशंगाबाद, इंदौर, जबलपुर, कटनी, खण्डवा, मंदसौर, मुरैना, नरसिंहपुर, नीमच, पन्ना और रायसेन शामिल हैं। इसी तरह, राजगढ़, रतलाम, रीवा, सागर, सतना, सीहोर, सिवनी, शाजापुर, श्योपुर, शिवपुरी, सीधी, सिंगरौली, टीकमगढ़, उज्जैन, उमरिया और विदिशा में भी यह छात्रावास मंजूर किये गये हैं।
-----------------------

विदेश में उच्च शिक्षा अध्ययन के लिये मिलेगी छात्रवृत्ति
ऑफलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 10 फरवरी निर्धारित
शाजापुर 05 फरवरी 2019/राज्य शासन द्वारा हर वर्ष 20 होनहार विद्यार्थियों का चयन कर उन्हें विदेश में 2 वर्ष के स्नातकोत्तर और शोध पाठ्यक्रम के लिये 40 हजार डॉलर प्रति वर्ष की छात्रवृत्ति प्रदान की जायेगी। इसमें छात्रवृत्ति के रूप में वार्षिक 38 हजार डॉलर के साथ 2 हजार डॉलर किताबों, आवश्यक उपकरण, टंकण, शोध प्रबंध की बाइडिंग सहित अन्य खर्चों को शामिल किया गया है।
        योजना शैक्षणिक सत्र 2019-20 से लागू करने का निर्णय लिया गया है। मध्यप्रदेश के ऐसे मूल निवासी प्रतिभावान स्नातक एवं स्नातकोत्तर विद्यार्थी, जिन्होंने 75 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त किये हैं, अब विदेश में उच्च शिक्षा के लिये आवेदन कर सकते हैं। छात्रवृत्ति के ऑफलाइन आवेदन सम्पूर्ण दस्तावेजों के साथ 10 फरवरी तक आमंत्रित किये गये हैं। 
छात्रवृत्ति के लिये आवश्यक अर्हताएँ
        विदेश अध्ययन के लिये आवेदक विद्यार्थी को यू.जी./पी.जी. में 75 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करना अनिवार्य होगा। छात्रवृत्ति के लिये स्नातकोत्तर विद्यार्थी की आयु 25 वर्ष तथा शोध उपाधि के लिये 35 वर्ष निर्धारित है। आवेदक के माता-पिता, अभिभावक, अभ्यर्थी की पत्नी/पति की समस्त स्रोतों से कुल वार्षिक आय 5 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिये। अभ्यर्थी को जीआईई, जीएमएटी, टीओएफईएल, आईईएलटीएस की अर्हता प्राप्त करना अनिवार्य होगा। चयन समिति द्वारा मेरिट तथा शॉर्टलिस्ट प्रत्याशियों के साक्षात्कार के आधार पर विद्यार्थियों का चयन किया जायेगा।
       आवेदक विद्यार्थी ऐसे देश में स्थित मान्यता प्राप्त संस्थान में अध्ययन जारी रख सकेंगे, जिनके साथ भारत सरकार के राजनयिक संबंध हैं। योजना में उल्लेखित पाठ्यक्रम के लिये विद्यार्थियों को स्वयं प्रयास करने होंगे। विद्यार्थियों को उस देश का वीजा स्वयं प्राप्त करना होगा, जहाँ वह अध्ययन के लिये जा रहे हैं। वीजा जिस देश के लिये प्राप्त किया जायेगा, उसमें यह स्पष्ट उल्लेख होना चाहिये कि आवेदक विद्यार्थी अध्ययन के उद्देश्य से वीजा प्राप्त कर रहा है। छात्रवृत्ति, छात्र वीजा (स्टूडेंट वीजा) के आधार पर ही जारी की जायेगी।
उच्च शिक्षा अध्ययन के देश
        विदेश में उच्च शिक्षा अध्ययन के लिये विद्यार्थी ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, चीन, डेनमार्क, फिनलैण्ड, फ्रांस, हांगकांग, आयरलैण्ड, जापान, दक्षिण कोरिया, नीदरलैण्ड, न्यूजीलैण्ड, नार्वे, रशिया, सिंगापुर, स्विटजरलैण्ड, ताईवान, यू.के. तथा अमेरिका की निर्धारित शिक्षण संस्थाओं में प्रवेश ले सकते हैं।
-----------------------

20 फरवरी को सपाक्स करेगा विधानसभा का घेराव

शाजापुर. एट्रोसिटी एक्ट में संशोधन और प्रदेश में 10 प्रतिशत आरक्षण जल्द लागू कराने के लिए सपाक्स पार्टी 20 फरवरी को विधानसभा के समक्ष प्रदर्शन करेगी. इस संबंध में सपाक्स पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हीरालाल त्रिवेदी ने शाजापुर व आगर जिले में सपाक्स पार्टी के सदस्यता अभियान पर विचार-विमर्श और पार्टी के विस्तार के लिए बैठक आयोजित की. जिसमें हीरालाल त्रिवेदी ने कहा कि सामान्य वर्ग को आरक्षण देने का संविधान संशोधन का कानून मप्र में लागू कर सामान्य वर्ग के लिए जो आर्थिक आधार तय किया गया है, वह सभी वर्गों में लागू एवं एट्रोसिटी एक्ट का दुरुपयोग रोकने के मुद्दों को लेकर सपाक्स विधानसभा में प्रदर्शन करेगी. शाजापुर जिला सपाक्स कार्यालय में आयोजित बैठक में राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री त्रिवेदी ने कहा कि सपाक्स युवा मोर्चा, सपाक्स से जुड़े अन्य राजनीतिक दल व संगठन मिलकर भोपाल में विधानसभा में प्रदर्शन कर महामहिम राज्यपाल, विधानसभा अध्यक्ष, मुख्यमंत्री, विपक्ष के नेता को ज्ञापन देंगे. बैठक में सदस्यता अभियान और पार्टी को नए सिरे से खड़ा करने के संबंध में चर्चा एवं समीक्षा की गई. इसके पूर्व दुपाड़ा में शाजापुर विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी मुकेश पाटीदार और करणसिंह से भी मुलाकात कर ग्रामीण क्षेत्र में सपाक्स को मजबूत करने पर विचार-विमर्श किया गया. इस अवसर पर संभागीय संयोजक अजेंद्र त्रिवेदी, युवा मोर्चा के संभागीय संयोजक दीपक व्यास, शाजापुर नोडल मोहित व्यास, करणसिंह, श्रीमती गायत्री विजयवर्गीय, सपाक्स कर्मचारी संगठन के पदाधिकारी सहित बड़ी संख्या में सपाक्सजन मौजूद थे. 
--------------------

कृषि विज्ञान केन्द्र में संतरे पर संगोष्ठी सम्पन्न
        शाजापुर, 05 फरवरी 2019/कृषि विज्ञान केन्द्र, शाजापुर मे आज उद्यानिकी विभाग, शाजापुर  द्वारा संतरा उत्पादन एवं जीर्णोद्धारा विषय पर संगोष्ठी का कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथी पूर्व प्रधान वैज्ञानिक, संतरा अनुसंधान केन्द्र छिंदवाड़ा श्री एस. आर. धारपुरे थें। अध्यक्षता प्रमुख वैज्ञानिक कृषि महाविद्यालय इंदौर डॉ. जी.आर. अम्बावतिया ़ने की थी। कार्यक्रम में श्री एस. पी. एस. कुषवाह, संयुक्त संचालक उद्यानिकी उज्जैन डॉं विजय अग्रवाल, वरिष्ठ वैज्ञानिक, संचनालय, भोपाल, केन्द्र प्रमुख डॉ एस.एस. धाकड, डॉ. गायत्री वर्मा डॉ. मुकेष सिंह, उपसंचालक उद्यानिकी शाजापुर श्री के.पी. एस. परिहार, श्री रत्नेष विष्वकर्मा, श्री हितेन्द्र इंदौरिया साथ ही जिले के विभागीय अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे। कार्यक्रम में 200 से अधिक प्रगतिषील किसान उपस्थित थे। कार्यक्रम में श्री एस. पी. एस. कुषवाह, संयुक्त संचालक, उद्यानिकी, उज्जैऩ द्वारा संगोष्ठि के उददेषय एंव महत्व पर प्रकाष डाला। केन्द्र प्रमुख डॉ. एस एस धाकड द्वारा रबी फसलां की उन्नत कृषि तकनीकी की जानकारी के साथ ही उन्नत कृषि यंत्र एंव सिचाई की उन्नत विधियां की जानकारी कृषकों दी। कार्यक्रम के दौरान उन्होने केन्द्र पर फसल संग्रहालय में प्रदर्षित तकनीकियों को ज्यादा से ज्यादा कृषकों को देखने एवं अपनाने का आहवान किया। 

गोष्ठी के दौरान वैज्ञानिकों द्वारा दिए गए सुझाव
कृषकों को अच्छी गुणवत्ता की पौध खरीदने राष्ट्रीय संतरा अनुसंधान केन्द्र, नागपुर/ जोनल कृषि अनुसंधान केन्द्र, छिंदवाड़ा से संपर्क करे एवं पौध खरीदने हेतु उचित मार्गदर्षन प्राप्त करे।
कृषक भाई संतरो के बीच-बीच में कुछ पौधे रंगपुर अथवा जबेरी लाइम के भी लगाये ताकि पौधषाला हेतु मातृवृक्ष प्राप्त हो सके। अच्छी गुणवत्ता के मूलवृंत का प्रयोग किया जाऐ
बरसात के पूर्व जल निकासी का उचित प्रबंध करे।
सिंचाई हेतु माइक्रोइरीगेषन जैसे ड्रिप को बढ़ावा दिया जावे। जिससे कम पानी और साथ में ड्रिप द्वारा आवष्यक उर्वरक भी दिये जा सकें। 
संतरे की गुणवत्ता एंव स्वाद बढ़ाने हेतु ज्यादा से ज्यादा गोबर की खाद एवं केंचुआ खाद डाले एवं पोषण प्रबंधन मिट्टी परीक्षण के आधार पर करें।
संतरे में काली मिस्सी (काली मक्खी/सफेद मक्खी) जो कि संतरे का प्रमुख कीट एवं संतरे का उत्पादन एवं गुणवत्ता दोनो प्रभावित करता है। फायटोप्थोरा बीमारी से संतरे प्रभावित होता हैं अतः समन्वित कीट एवं रोग नियंत्रण के उपाय करें।
जिले के अंदर पुराने व क्षय हो रहे संतरे के बगीचो का वैज्ञानिक विधि से पुनर्जीविकरण किया जावे
जिले में समूह बनाकर संतरों का ज्यूस, कैंडी, स्क्वैष, मिठाइयॉं, दवाइयॉ, सौदर्यप्रसाधन एवं औषधीय उत्पाद को बढावा देना एंव संतरा आधारित लघु उद्योग स्थापित करना चाहिए।
कार्यक्रम एंव प्रक्षैत्र भ्रमण के दौरान वैज्ञानिकां द्वारा कृषकों की समस्याओं का मौके पर निदान किया गया।
फर्जी केसीसी खाता खोलने एवं ऋण चढ़ाने की जांच के लिए कलेक्टर ने दिए निर्देश, - इस खबर के साथ आज दिनभर की अनेक खबरे भी पड़े Reviewed by malwaabhitak on 2/05/2019 Rating: 5

Copyright © Malwa Abhi Tak
Devloped By Sai Web Solution

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.