Layout Style

Full Width Boxed

Background Patterns

Color Scheme

Top Ad unit 728 × 90

Trending

random

अपनी नैतिक जिम्मेदारियों से मुंह मोड़ रही केन्द्र सरकार : अपराजिता पांडे - प्रेसवार्ता में बताई प्रभावित इलाकों की दुर्दशा

(शहजाद खान ) शाजापुर। वर्तमान में जनता को सहायता की आवश्यकता है। क्योंकि हाल ही में प्रदेशवासियों ने जल प्रलय झेला है। ऐसे में राजनीति की राह छोड़कर सभी को एक-दूसरे के साथ काम करना चाहिए। कांग्रेस तो जनता की सेवा के लिए सभी को साथ लेकर चलने को तैयार है, लेकिन शायद भाजपा विधानसभा की हार से अब तक सदमे मेंं है और वह पीड़ितों की सुध लेना तो दूर सत्ताधारी पार्टी से द्वेष पाल रही है जिसका खामियाजा जनता को भुगतना पड़ रहा है। कई इलाके ऐसे हैं जो भाजपा की द्वेषतापूर्ण नीतियों की वजह से अब तक जलप्रलय से हुए नुकसान से उबर नहीं पाई है।
यह बात प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता अपराजिता पांडे ने रविवार को एबी रोड स्थित रेस्ट हाऊस पर आयोजित प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में 16 से 20 हजार करोड़ के नुकसान का आंकलन हुआ है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार के रवैये से ऐसा प्रतीत होता है कि वह अपनी हार को पचा नहंी पाया है और उसका प्रतिशोध प्रदेश की जनता से ले रहा है। हाल ही में मप्र लोकसभा के 29 में से 28 सांसद भाजपा के जीतकर आए हैं। आज तक एक भी सांसद ने केन्द्र सरकार से एक बार भी अनुरोध नहीं किया है कि वे प्रदेश के नागरिकों की इस गंभीर पीड़ा के समय उनकी मदद करें। उल्टा प्रदेश के पूर्व मुखिया शिवराजसिंह चौहान, विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव, राष्टÑीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय और अन्य लोग वंचित नागरिकों के खिलाफ अनर्गल बयानबाजी कर उनकी पीड़ा को बढ़ा रहे हैं। जबकि इन लोगों को याद रखना चाहिए कि पहले जब भी प्रदेश में प्राकृतिक आपदा आई है तब केन्द्र में बैठी कांग्रेस सरकार ने इनकी मदद की थी। कांग्रेस जिलाध्यक्ष योगेंद्र सिंह बंटी बना ने कहा कि जब भी प्रदेश मे आपदा आई है तब-तब सत्ता में रहते हुए या सत्ताहीन होते हुए भी कांग्रेस ने प्रभावितों से मिलकर उन्हें सांत्वना के साथ ही हर संभव मदद की है, लेकिन यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि प्रदेश सरकार द्वारा देश के प्रधानमंत्री और गह मंत्री को राहत के लिए प्रतिवेदन सौंपने के बाद  भी आज तक केन्द्र सरकार द्वारा राष्टÑीय आपदा कोष से एक भी पैसा नहीं दिया गया है। लेकिन प्रदेश के मुखिया कमलनाथ भी दृढ़ संकल्पित हैं कि इस दुख की घड़ी में प्रदेश सरकार नागरिकों के साथ पूरी ताकत के साथ खड़ी है। उन्होंने कहा कि अभी तक राज्य सरकार ने अपनी ओर से प्रदेश के नागरिकों को जिनके जान माल की हानि हुई है उन्हें 200 करोड़ रुपए वितरित किए हैं। साथ ही 270 करोड़ की राशि उन जिलों में तत्काल उपलब्ध करवाई है जहां किसानों की फसलें सबसे ज्यादा प्रभावित हुई है। इस अवसर पर वरिष्ठ कांगे्रसी नेता बालकृष्ण चतुर्वेदी, नपाध्यक्ष प्रतिनिधि क्षितिज भट्ट, याकूब खान, कमरुद्दीन मेव, आईटीसेल जिलाध्यक्ष देवकरण गुर्जर, किसान कांग्रेस जिलाध्यक्ष कैलाश मटोलिया, पार्षद सत्या वात्रे, अकील वारसी, शब्बीर भाई, सोहेल खान, राजेंद्रसिंह बोरसाली, विजेंद्र पाटीदार आदि उपस्थित थे। यह जानकारी जिला कांग्रेस प्रवक्ता पं. गोविंद शर्मा ने दी।
अपनी नैतिक जिम्मेदारियों से मुंह मोड़ रही केन्द्र सरकार : अपराजिता पांडे - प्रेसवार्ता में बताई प्रभावित इलाकों की दुर्दशा Reviewed by malwaabhitak on 11/03/2019 Rating: 5

Copyright © Malwa Abhi Tak
Devloped By Sai Web Solution

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.