Layout Style

Full Width Boxed

Background Patterns

Color Scheme

Top Ad unit 728 × 90

Trending

random

भागीरथी बने जल संसाधन मंत्री कराड़ा, कल देंगे करोड़ों की सौगात - 2215 करोड़ से ज्यादा की परियोजनाओं का आज होगा भूमिपूजन


शहजाद खान शाजापुर। कांग्रेस शासन के एक साल पूर्ण होने के बाद जैसी उम्मीद शहरवासियों को थी वह अब पूरी होती दिखाई दे रही है और प्रदेश के जल संसाधन मंत्री व विधायक हुकुमसिंह कराड़ा शहर को करोड़ों की सौगात देने जा रहे हैं। शहर की सूरत और सीरत बदलने वाले दो मुख्य परियोजनाओं का 28 दिसंबर को भूमिपूजन होगा। इसमें 2215 करोड़ रुपए की लागत से ओंकारेश्वर स्थित नर्मदा नदी पर बने बांध से शाजापुर और उज्जैन जिले तक पाइप लाइन के माध्यम से नमर्दा का जल पहुंचाने की परियोजना एवं शाजापुर शहर के लिए विश्व बैंक द्वारा वित्तपोषित 92 करोड़ की सीवरेज परियोजना का भूमिपूजन करने के लिए प्रदेश के दो कैबिनेट मंत्री शाजापुर पहुुंचेंगे। जिससे शहर का जल संकट हमेशा के लिए समाप्त हो जाएगा।
कांग्रेस जिलाध्यक्ष योगेंद्रसिंह बंटी बना ने बताया संभवत: ये पहला मौका होगा जबकि शाजापुर में इतने वृहद स्तर पर बनी हुई दो परियोजना का एक साथ भूमिपूजन होगा। इसके लिए प्रशासनिक स्तर पर तैयारियां शुरू की गई है। 28 दिसंबर को इन दोनों परियोजना का भूमिपूजन करने के लिए प्रदेश के जल संसाधन मंत्री हुकुमसिंह कराड़ा और प्रदेश के नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह शाजापुर पहुंचेंगे। उन्होंने बताया कि वैसे तो नर्मदा का जल शाजापुर तक लाने के लिए जिस परियोजना पर कार्य शुरू होगा उसका अधिकांश लाभ उज्जैन जिले को मिलेगा, लेकिन इसमें शाजापुर और मक्सी के रहवासियों को पेयजल एवं आधा दर्जन से ज्यादा ग्रामों को सिंचाई के लिए नमर्दा का जल मिल पाएगा। इसके साथ ही शहर के लिए सीवरेज ट्रीटमेंट परियोजना का भी भूमिपूजन होगा। जिससे शहर के सीवरेज की स्थिति बदल जाएगी। श्री सिंह ने कांग्रेस के सभी संगठन के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं से अधिक से अधिक संख्या में आकर उक्त आयोजन को सफल बनाने की अपील की है।
1800 करोड़ रुपए की है नमर्दा का जल लाने की परियोजना
शहर में प्रतिवर्ष जल संकट की स्थिति को देखते हुए इसके स्थाई समाधान के लिए योजना तैयार की गई। इसमें शहरवासियों को जल वितरण के लिए नमर्दा नदी का जल लाने के लिए प्रस्ताव तैयार किया गया। नमर्दा विकास प्राधिकरण के अनुसार नमर्दा-शिप्रा लिंक बहुउद्देशीय परियोजना का करीब 80 प्रतिशत लाभ उज्जैन जिले को और 20 प्रतिशत लाभ शाजापुर जिले को मिलेगा। शाजापुर जिले में नमर्दा नदी का पानी शाजापुर और मक्सी नगर में पेयजल के लिए मिलेगा। वहीं जिले के ग्राम टांडा बंजारीए खेरखेड़ी, रामपुरा गुर्जर, जादमीए ढाबलाए सामगीमानाए डेंकढ़ी सहित अन्य ग्रामों में सिंचाई के लिए भी नमर्दा नदी का पानी पहुंचाया जाएगा। इस परियोजना को पूरा करने के लिए वर्ष 2022 तक का लक्ष्य रखा गया है।
भागीरथी बने जल संसाधन मंत्री कराड़ा, कल देंगे करोड़ों की सौगात - 2215 करोड़ से ज्यादा की परियोजनाओं का आज होगा भूमिपूजन Reviewed by malwaabhitak on 12/27/2019 Rating: 5

Copyright © Malwa Abhi Tak
Devloped By Sai Web Solution

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.