Layout Style

Full Width Boxed

Background Patterns

Color Scheme

Top Ad unit 728 × 90

Trending

random

18 दिसम्बर 19 शाजापुर जिले की 7 बड़ी खबरे,जिला प्रसासन की सख्ती मचा हडकंप


उर्वरक के विक्रय में अनियमितता करने वाले,9 प्रतिष्ठानों के विरुद्ध कार्रवाई के निर्देश
शाजापुर, 18 दिसम्बर 2019/कलेक्टर डॉ. वीरेन्द्र सिंह रावत ने उर्वरक विक्रय में अनियमितता करने वाले 9 प्रतिष्ठानों के विरुद्ध कार्रवाई करने के निर्देश उप संचालक कृषि को दिए है। जिले में उर्वरकों के विक्रय में गड़बड़ी की शिकायत मिलने पर कलेक्टर डॉ. रावत ने राजस्व अधिकारियों से उर्वरक विक्रय करने वाले प्रतिष्ठानों की जांच कराई थी।
      कलेक्टर डॉ. रावत के निर्देश पर राजस्व अधिकारियों ने यूरिया ट्रेडर्स धोबी चौराहा शाजापुर, शिवहरे ट्रेडर्स शाजापुर, पायल फर्टिलाइजर्स धोबी चौराहा शाजापुर, आकाश एग्रीकल्चर एवं बिजनेस सेंटर कालापीपल, मैसर्स गुरुजी ट्रेडर्स कालापीपल मंडी, देवालाल श्रीलाल अग्रवाल कालापीपल मंडी, अग्रवाल कृषि सेवा केंद्र कालापीपल, साक्षी किराना स्टोर बेरछा एवं मेसर्स सुरेंद्र फर्टिलाइजर बेरछा मंडी के प्रतिष्ठानों की दुकानों एवं गोडाउन की जांच की थी। जांच में अनियमितताएं एवं कालाबाजारी पाए जाने पर प्रतिष्ठानों की बिल बुक, रजिस्टर उर्वरक सुपुर्दगी, मौका पंचनामा आदि तैयार कर कलेक्टर को सौपा था। उप संचालक कृषि उर्वरक विक्रय के लिए अनुज्ञापन अधिकारी होते हैं, इसलिए उन्हें कार्रवाई के लिए कलेक्टर ने निर्देश दिये है।
-------------------

चायना डोर के विक्रय एवं उपयोग पर प्रतिबंध
शाजापुर, 18 दिसम्बर 2019
/पतंगबाजी में चायना डोर के उपयोग से आम जनता एवं पशु-पक्षियों के जीवन को बचाने के लिए कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी डॉ. वीरेन्द्र सिंह रावत ने भारतीय दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के तहत चायना डोर के उपयोग एवं विक्रय पर तत्काल प्रभाव से प्रतिबंध लगाया है।
     उल्लेखनीय है कि जिले में मकर संक्रांति पर्व पर पतंगबाजी करने की परम्परा है साथ ही वर्तमान में भी पतंगबाजी में चायना डोर का उपयोग हो रहा है। चायना डोर के कारण विभिन्न घातक दुर्घटनाएं सामने आई है। दुर्घटनाओं को देखते हुए जिला दंडाधिकारी द्वारा चायना डोर के उपयोग का 18 दिसम्बर 2019 से 31 जनवरी 2020 तक प्रतिबंध लगाया है। इस अवधि में कोई भी व्यक्ति पतंगबाजी के लिए चायना डोर का उपयोग एवं संग्रहण नही कर सकेगा, साथ ही पतंगो की दुकानों पर चायना डोर न तो विक्रय के लिए रखी जा सकेगी और ना ही विक्रय किया जा सकेगा। धारा 144 के तहत लगाए गए प्रतिबंध लोकहित में एक पक्षीय रूप से जारी किए गए है। कोई भी व्यक्ति आदेश का उल्लंघन करता है तो उसके विरूद्ध धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी।
-------------------

जिले में धारा 144 के तहत प्रतिबंधात्मक आदेश के कड़ाई से पालन करने के लिए निर्देश
जुलूस-जलसे एवं पांच से अधिक व्यक्तियों के एकत्रीकरण पर प्रतिबंध
     शाजापुर, 18 दिसम्बर 2019/ शाजापुर जिले में शांति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए जिला प्रशासन ने भारतीय दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के तहत प्रतिबंधात्मक आदेश लगाये गये है। धारा 144 के तहत लागू प्रतिबंधों के अनुसार जिले में कहीं भी 5 से अधिक व्यक्तियों के एकत्रित होने पर प्रतिबंध लगाया गया है। साथ ही जिले में जुलूस-जलसे एवं सभाओं के आयोजनो को भी पूर्व से ही प्रतिबंधित किया गया है। कलेक्टर डॉ. वीरेन्द्र सिंह रावत ने उक्त आदेशों का कड़ाई से पालन करवाने के निर्देश जिले के सभी एसडीएम, एसडीओपी, थाना प्रभारियों को दिए हैं। प्रतिबंध की अवधि में सभी प्रकार के सार्वजनिक स्थानों, चौराहों, चौपालों, तिराहों आदि पर किसी भी प्रकार के जुलूस, रैली, सभा आदि पर प्रतिबंध लगाया गया है।
किसी भी प्रकार के जुलूस, शौभायात्रा, रैली, समारोह, धरना प्रदर्शन आदि के आयोजन एवं उसके संचालन के लिये अनुविभागीय अधिकारी राजस्व से लिखित में आवेदन कर अनुमति प्राप्त करना होगी।

इसी तरह जिले की संपूर्ण राजस्व सीमा क्षेत्र में बिना किसी वैधानिक आधार के आपत्तिजनक अथवा उद्वेलित करने फोटो/चित्र, मैसेज करने पर एवं उनकी फारवर्डिंग, ट्वीटर, फेसबुक, वॉट्सअप इत्यादि सोशल मीडिया आदि पर करने से पोस्ट पर कमेंट्स करने सहित इस तरह अवैधानिक पोस्ट को लाईक करने की गतिविधियों को प्रतिबंधित किया गया है।
  वर्तमान परिदृश्य को दृष्टिगत रखते हुए जिला दंडाधिकारी ने संदिग्ध गतिविधियों पर निगाह रखने की दृष्टि से शाजापुर जिले की राजस्व सीमा में मकान/दुकान किराये से दिये जाने के पूर्व किरायेदार की सूचना निकटस्थ् थाने पर देने के लिए संबंधित मकान/दुकान मालिक को आदेशित किया गया है। इसी तरह घरेलू एवं व्यवसायिक नौकरों की सूचना भी थाने पर देने के लिए कहा गया है। होटल, लाज, ढाबा, धर्मशाला आदि में रूकने वाले व्यक्तियों से फोटोयुक्त पहचान पत्र अनिवार्य रूप से लेने एवं ठहरने वालों की सूची प्रतिदिन थाने पर देने के आदेश भी संबंधित संचालकों को दिये गये हैं।
यदि कोई व्यक्ति इस आदेश का उल्लंघन करेगा तो उसका कृत्य भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 के अंतर्गत अभियोजन के लिए उत्तरदायी होगा। यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू होकर आगामी आदेश तक प्रभावशील रहेगा।
-------------------

अवैध शराब माफिया के विरूद्ध कार्यवाही
     शाजापुर, 18 दिसम्बर 2019/
 कलेक्टर डॉ. वीरेन्द्र सिंह रावत के निर्देशन में अवैध शराब मफ़िया के विरुद्ध विशेष अभियान के अंतर्गत पुलिस अधीक्षक श्री पंकज श्रीवास्तव एवं जिला आबकारी अधिकारी सुश्री मन्दाकिनी दीक्षित के मार्गदर्शन में आबकारी एवं पुलिस विभाग द्वारा पंपापुर कंजर डेरा, बांगली कंजर डेरा, माधोपुर कंजर डेरा एवं देवड़ा कंजर डेरा पर संयुक्त दबिश दी गई, जिसमें 12 ड्रम में लगभग 2500 लीटर महुआ लाहन बरामद हुआ, जिसे मौके पर सैंपल लेकर नष्ट किया गया। संपूर्ण कार्यवाही में आबकारी उप निरीक्षक श्री प्रदीप जोशी, आबकारी उपनिरीक्षक श्री सुरेश पटेल, थाना प्रभारी सुंदरसी, थाना प्रभारी सलसलाई, थाना प्रभारी बेरछा सहित आबकारी आरक्षक श्री दिनेश कुमार कौशिक, श्री लखन सिंह सिसोदिया, श्री अंतराम पन्द्रे, श्री अमित शर्मा एवं अन्य पुलिसकर्मियों का महत्वपूर्ण योगदान रहा।
-------------------

खनिजो के अवैध उत्खनन, परिवहन पर कार्यवाही
     शाजापुर, 18 दिसम्बर 2019/ 
कलेक्टर डॉ. वीरेन्द्र सिंह रावत एवं पुलिस अधीक्षक श्री पंकज श्रीवास्तव के निर्देशानुसार जिले में खनिजों के अवैध खनन एवं परिवहन की प्रभावी रोकथाम हेतु खनिज अमले द्वारा आज थाना लालघाटी अन्तर्गत ग्राम खेड़खेड़ी में खनिज मुरम के 05 डम्पर, बायपास एवं शहर के मार्गों में 04 डम्पर खनिज उत्पाद मिटट्ी एवं रेत की 01 ट्रेक्टर ट्राली का अवैध परिवहन करते हुए इस प्रकार कुल 10 वाहन जप्त कर थाना लालघाटी में खड़े कराये गये हैं।
     इसी प्रकार खनिज अमले के द्वारा ग्राम-चौमा लखुंदर नदी से एक ट्रेक्टर ट्राली रेत का अवैध खनन करते हुए जप्त कर थाना मो. बड़ोदिया और 01 ट्रेक्टर ट्राली पत्थर का अवैध परिवहन करते थाना बेरछा में खड़ा कराया गया है।
     अवैध खनन और परिवहन में लिप्त कुल इस प्रकार कुल 12 वाहनों पर कार्यवाही की जाकर संबंधित थानों में खड़े कराये गये हैं। इन पर मध्यप्रदेश गौण खनिज नियम 1996 के नियम 53 और रेत नियम 2019 के प्रावधानों के तहत कार्यवाही की जाकर प्रकरण कलेक्टर न्यायालय में पेश किये जायेंगे।.
-------------------
महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा जागरूकता शिविर
     शाजापुर, 18 दिसम्बर 2019/ 
महिला एवं बाल विकास विभाग विभाग द्वारा अपेक्स इण्टरनेषनल हाई स्कुल तिलावद गोविन्द मे आज बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के तहत गुड टच-बेड टच विषय पर जागरूकता षिविर का आयेजन किया गया।
     सहायक संचालक सुश्री नीलम चौहान ने कार्यक्रम के उददेष्य बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना पर विस्तार से प्रकाष डाला व लाड़ो अभियान के तहत बाल विवाह प्रतिषेध अधि. 2006 के बारे मे जानकारी दी। इस दौरान परिवीक्षा अधिकारी श्री भीष्म गुप्ता ने गुड टच-बेड टच आधरित फिल्म कोमल दिखाई व बाल अधिकारो से संबंधित मुददो पर जानकारी प्रदान की। संरक्षण अधिकारी सना बक्ष ने चाइल्ड लाइन के बारे मे बताया। इस दैरान विद्यालय की प्रतिभावान 10 बालिकाओं को विभाग द्वारा शील्ड व फूल-माला से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर श्री संजय मिश्रा एवं विधालय के प्राचार्य श्री अरूण विष्वकर्मा, अभिषेक गोठी, श्री आषीष नागर, श्रीमती निर्मला विष्वकर्मा व समस्त स्टाफ उपस्थित थे।
-------------------
ओमप्रकाश पाटीदार को शिक्षा के क्षेत्र में सूचना संचार तकनीकी उपयोग के लिये मिलेगा राष्ट्रीय पुरस्कार
विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास और उनमें वैज्ञानिक दृष्टिकोण उत्पन्न करने में शिक्षक श्री पाटीदार सराहनीय योगदान दे रहे हैं
     शाजापुर, 18 दिसम्बर 2019/ स्थानीय शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय शाजापुर में पदस्थ शिक्षक श्री ओमप्रकाश पाटीदार छात्र-छात्राओं के सर्वांगीण विकास और उनमें वैज्ञानिक दृष्टिकोण उत्पन्न करने के लिए सराहनीय योगदान दे रहे हैं। शिक्षा के क्षेत्र में सूचना संचार तकनीकी के उपयोग के लिए शिक्षक श्री पाटीदार को 23 दिसम्बर को मानव संसाधन विकास मंत्रालय भारत सरकार द्वारा पुरूस्कृत किया जायेगा। कार्यक्रम का सीधा प्रसारण 23 दिसम्बर 2019 को प्रातः 10.00 बजे से मानव संसाधन विकास मंत्रालय की वेबसाइट https://webcast.gov.in/mhrd/ पर किया जायेगा।  
     मानव संसाधन विकास मंत्रालय भारत सरकार द्वारा वर्ष 2010 से राष्ट्रीय आईसीटी पुरस्कार देश भर के उन शिक्षकों को प्रोत्साहित करने के लिए दिया जाता है, जिन्होंने विद्यालयी पाठ्यक्रम एवं विषय- शिक्षण प्रक्रिया को प्रभावशाली बनाने के लिए नवीन एकीकृत प्रौद्योगिकी का उपयोग कर विद्यार्थियों में आईसीटी के प्रति जिज्ञासा उत्पन्न की है, जिससे खोज आधारित सहायक और सहयोगपूर्ण शिक्षा को बढ़ावा दिया गया है। अब तक मध्यप्रदेश  से सिर्फ दो शिक्षको को यह पुरस्कार प्रदान किया गया है। 23 दिसंबर 2019 को यह पुरस्कार शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय शाजापुर के जीव विज्ञान शिक्षक श्री ओमप्रकाश पाटीदार को प्रदान किया जायेगा।
----------- 
गौशालाओं के निर्माण के लिए कलेक्टर ने की समय-सीमा निर्धारित
     शाजापुर, 18 दिसम्बर 2019/
 महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत जिले में गौशालाओं के निर्माण की प्रगति की समीक्षा विगत दिवस कलेक्टर डॉ. वीरेन्द्र सिंह रावत द्वारा जिला स्तरीय गौशाला समिति की बैठक में की गई। कलेक्टर ने निर्माणाधीन 26 गौशालाओं को पूर्ण करने के लिए समयसीमा निर्धारित की है। उल्लेखनीय है कि जिले में इस वर्ष 27 गौशालाएं निर्माणाधीन है, जिनमें से मो. बड़ोदिया जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत मण्डोदा की गौशाला का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है। शेष 26 गौशालाएं निर्माणाधीन है।
     गौशालाओं के निर्माण की समीक्षा करते हुए कलेक्टर ने निर्देश दिये कि 07 गौशालाओं का निर्माण 31 दिसम्बर 2019 तक, 08 गौशालाओं का निर्माण 15 जनवरी 2020 तक, 10 गौशालाओं का निर्माण 31 जनवरी 2020 तक तथा 01 गौशाला का निर्माण 31 मार्च 2020 तक पूर्ण करने के निर्देश दिये। साथ ही कलेक्टर ने आगामी वर्ष में 60 नवीन गौशालाओं के निर्माण के लिए स्थल चयन करने के निर्देश भी दिये गये हैं। बैठक में कलेक्टर ने उद्यानिकी, कृषि तथा पशु चिकित्सा सेवा विभाग के अधिकारियों को गौशालाओं में चारागाह बनाने तथा उपयुक्त घांस का चयन करते हुए घांस बीज़ों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश् दिये। उन्होंने उद्यान विभाग से कहा कि चयनित गौशलाओ के नजदीक पौध नर्सरी भी तैयार कराएं। गौशालाओं का संचालन स्वसहायता समूहों से कराने के प्रस्ताव का अनुमोदन भी किया गया। स्वसहायता समूहों को गौशाला संचालन का प्रशिक्षण देने के लिए उपसंचालक पशु चिकित्सा सेवा को निर्देशित किया। जिन गौशालाओं से विद्युत लाईन 300 मीटर से अधिक दूरी पर हो वहां के लिए प्राक्कलन तैयार करने के लिए भी निर्देशित किया गया। साथ ही कार्यपालन यंत्री लोकस्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग को गौशालाओं में पानी की उपलब्धता हेतु नलकूप खनन की कार्रवाई पूरी करने के निर्देश दिये।
     बैठक में समिति की सचिव एवं जिला पंचायत सीईओ श्रीमती शिवानी वर्मा सहित समिति के सदस्यगण एवं जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी उपस्थित थे।

18 दिसम्बर 19 शाजापुर जिले की 7 बड़ी खबरे,जिला प्रसासन की सख्ती मचा हडकंप Reviewed by malwaabhitak on 12/18/2019 Rating: 5

Copyright © Malwa Abhi Tak
Devloped By Sai Web Solution

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.