Layout Style

Full Width Boxed

Background Patterns

Color Scheme

Top Ad unit 728 × 90

Trending

random

शाजापुर प्रशासनिक डायरी,16जनवरी2020 देखें आज की प्रशासनिक सभी खबरें

जिले के लिए स्थानीय अवकाश घोषित
     शाजापुर, 16 जनवरी 2020/ 
कलेक्टर डॉ. वीरेन्द्र सिंह रावत ने सामान्य पुस्तक परिपत्र के अधीन प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए शाजापुर जिले के लिए वर्ष 2020 हेतु स्थानीय अवकाशों की घोषणा की है। जिसके अनुसार जिले में गणेश चतुर्थी 22 अगस्त 2020 दिन शनिवार, दशहरा का दूसरा दिन 26 अक्टूबर 2020 दिन सोमवार तथा भाई दूज 16 नवम्बर 2020 दिन सोमवार को स्थानीय अवकाश रहेगा।
क्रमांक 139/139/चंदेलकर/राम

फिट इंडिया कार्यक्रम के तहत साईकिल रैली 18 जनवरी को
     शाजापुर, 16 जनवरी 2020/
 फिट इंडिया कार्यक्रम के तहत नेहरू युवा केन्द्र के तत्वाधान में 18 जनवरी 2020 को प्रातः 9.00 बजे से साईकिल रैली आयोजित की जाएगी। प्राप्त जानकारी के अनुसार साईकिल रैली स्थानीय शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय से प्रारंभ होकर नई सड़क, चौक बाजार, सोमवारिया बाजार, काछीवाड़ा बस स्टैण्ड से होती हुई पुनः उत्कृष्ट स्कूल मैदान में पहुंचकर सम्पन्न होगी।
क्रमांक 140/140/चंदेलकर/राम

कोटवार नियुक्ति के संबंध में आपत्तियां आमंत्रित
     शाजापुर, 16 जनवरी 2020/
 नायब तहसीलदार मो.बड़ोदिया न्यायालय द्वारा ग्राम दुपाड़ा में भगवान सिंह पिता उमाराव सिंह तथा आत्माराम पिता प्रभुलाल के कोटवार पद पर नियुक्ति के संबंध में 30 जनवरी 2020 तक आपत्तियां आमंत्रित की गई है।
     नायब तहसीलदार न्यायालय ने सर्वसाधारण को सूचित किया है कि कोटवार की नियुक्ति प्रकरण के संबंध में यदि किसी को कोई आपत्ति हो तो वे 30 जनवरी 2020 तक अथवा उसके पूर्व न्यायालयीन समय में स्वतः अथवा विधिक अभिकर्ता के माध्यम से अपनी आपत्ति प्रस्तुत कर सकता है। नियत अवधि के उपरांत प्राप्त होने वाली आपत्तियों पर विचार नहीं किया जायेगा।
क्रमांक 141/141/चंदेलकर/राम

गणतंत्र दिवस पर शुष्क दिवस
     शाजापुर, 16 जनवरी 2020/
 राज्य शासन के आदेशानुसार कलेक्टर डॉ. वीरेन्द्र सिंह रावत ने गणतंत्र दिवस 26 जनवरी 2020 के अवसर पर जिले में शुष्क दिवस रखने के आदेश जारी किए हैं। जारी आदेशानुसार शुष्क दिवस पर जिले की समस्त देशी एवं विदेशी मदिरा की दुकाने पूर्णतः बंद रहेगी। साथ ही होटल, रेस्टोरेन्ट, ढाबे आदि पर मदिरा के अवैध रूप से विक्रय पर रोकथाम लगाने के लिए जिला आबकारी अधिकारी को निर्देशित किया गया है।
क्रमांक 142/142/चंदेलकर/राम

प्राथमिक एवं माध्यमिक वार्षिक परीक्षा संबंधी निर्देश जारी
     शाजापुर, 16 जनवरी 2020/ 
राज्य शिक्षा केन्द्र द्वारा प्राथमिक (कक्षा 5वी) एवं पूर्व माध्यमिक (कक्षा 8वी) वार्षिक परीक्षा आयोजन संबंधी निर्देशिका वर्ष 2019-2020 निःशुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम 2009 में भारत सरकार द्वारा किये गये संशोधन एवं म.प्र. शासन द्वारा जारी नोटिफिकेशन 02 जनवरी 2019 के अनुक्रम में जारी की गई है।
     जिला शिक्षा अधिकारी श्री यू.यू. भिड़े ने जानकारी देते हुए बताया कि परीक्षाओं के आयोजन के लिए कलेक्टर डॉ. वीरेन्द्र सिंह रावत की अध्यक्षता में जिला परीक्षा समिति का गठन किया गया है।
शासकीय विद्यालयों में दर्ज छात्रों के लिए
     शिक्षा के प्रति गंभीरता बढ़ाये जाने के उद्देश्य से यह परीक्षा बोर्ड पेटर्न में (बोर्ड परीक्षा नहीं) आयोजित की जायेगी। परीक्षा के प्रश्न-पत्र राज्य स्तर से निर्मित कर जिलो को प्रदाय किये जायेंगे। परीक्षा के लिए परीक्षा केन्द्रां का निर्धारण एवं परीक्षा केन्द्राध्यक्ष (संस्था प्रधान को छोड़कर) की नियुक्ति व्यवस्था लागू की जायेगी। परीक्षा की उत्तरपुस्तिका के मूल्यांकन हेतु मूल्यांकन केन्द्र का निर्धारण (विकासखण्ड बदलकर) व मूल्यांकन केन्द्राध्यक्ष की नियुक्ति की व्यवस्था लागू की जायेगी।
     अशासकीय व अनुदान प्राप्त विद्यालयों में परीक्षाओं का आयोजन
     निर्धारित पाठ्यक्रम के अनुसार प्रश्न-पत्र शाला स्तर पर निर्मित कर अपने स्तर पर परीक्षाओं का आयोजन करेंगे। उन्हें शासकीय विद्यालयों की भांति निर्धारित मापदण्ड अनुसार वार्षिक परीक्षाफल निर्धारित प्रारूप में तैयार करने के लिए कहा गया है। परीक्षा परिणाम की घोषणा संकुल प्राचार्य के अनुमोदन उपरांत किया जायेगा। कक्षा 5वी एवं कक्षा 8वी में अनुत्तीर्ण (प्रत्येक विषय में 33 प्रतिशत से कम अंक) होने वाले विद्यार्थियों के लिये विशेष कक्षाओं का आयोजन कर 2 माह बाद पुनः परीक्षा का आयोजन करना होगा ओर इस परीक्षा में भी अनुत्तीर्ण होने पर विद्यार्थी को उसी कक्षा में रोकना होगा।
मुख्य परीक्षा में अनुपस्थित रहे विद्यार्थियों को पुनः परीक्षा का अवसर
     मुख्य परीक्षा में अनुपस्थित विद्यार्थियों को पुनः परीक्षा के दौरान सभी विषयों की परीक्षा में शामिल होने का एक अवसर प्रदान किया जायेगा। इस पुनः परीक्षा में सम्मिलित हुए विद्यार्थियों को इस परीक्षा में प्रत्येक विषय में उत्तीर्ण होना आवश्यक होगा। पुनः परीक्षा में सम्मिलित विद्यार्थियों को सभी निर्धारित विषयों में उत्तीर्ण न हो पाने से अध्ययनरत् कक्षा में ही पुनः अध्ययन करना होगा, परन्तु शाला से निषाकासित नहीं किया जायेगा।
     मुख्य परीक्षा में अनुत्तीर्ण रहे विद्यार्थियों को पुनः परीक्षा का अवसर
     मुख्य परीक्षा में सम्मिलित ऐसे विद्यार्थी जो निर्धारित सभी विषय में मुख्य परीक्षा में अनुत्तीर्ण होते है तो उन्हें अनुत्तीर्ण विषयों में अतिरिक्त शिक्षण प्रदान किया जायेगा। ऐसे अनुत्तीर्ण विद्यार्थियों को मुख्य परीक्षा परिणाम घोषित की तारीख से 2 माह की अवधि के पश्चात उन्हें पुनः परीक्षा देने का अवसर प्रदान किया जायेगा। पुनः परीक्षा में शामिल होने वाले विद्यार्थियों से मुख्य परीक्षा की अंकसूची विद्यालय में जमा कराई जाकर पुनः परीक्षा उपरांत नवीन अंकसूची प्रदान की जायेगी। जिसमें परीक्षाफल में पुनः परीक्षा का उल्लेख किया जायेगा।
क्रमांक 143/143/चंदेलकर

जिला जनसंपर्क कार्यालय, शाजापुर
।। समाचार।।
!! खुशियों की दास्ताँ !!
समूह से समृद्धि की ओर मंजूबाई
     शाजापुर, 16 जनवरी 2020/ 
शाजापुर जिले के ग्राम गिरवर के संत रविदास स्वसहायता समूह की सदस्य श्रीमती मंजूबाई ने समूह से समृद्धि की ओर की वाक्यांश को चरितार्थ कर रही है। श्रीमती मंजूबाई को स्वसहायता समूह की ओर से 10 हजार रूपये ऋण के रूप में प्रदान किये गये थे। श्रीमती मंजूबाई ने इस राशि से मनिहारी की छोटी सी दुकान शुरू की। इस दुकान में उसने कॉस्मेटिक सामग्री भी रखी। इसके माध्यम से उसे लगभग 7 हजार रूपये से अधिक की प्रतिमाह आमदनी होने लगी है। श्रीमती मंजूबाई ने अपनी दुकान में 50 हजार रूपये से अधिक की सामग्री रखी है, जिसे वह विक्रय करेगी। इस प्रकार मंजूबाई के आर्थिक रूप से सक्षम बनने में स्वसहायता समूह ने भूमिका निभाई।
क्रमांक 144/144/चंदेलकर
जिला जनसंपर्क कार्यालय, शाजापुर
।। समाचार।।
!! खुशियों की दास्ताँ !!
आंगनवाड़ी के बाल शिक्षा केन्द्र में परिवर्तित होने से आया बदलाव
     शाजापुर, 16 जनवरी 2020/ 
एकीकृत बाल विकास परियोजना के अंतर्गत मो. बड़ोदिया क्षेत्र की आंगनवाड़ी केन्द्र मोमन बड़ोदिया क्रमांक 01 को बाल शिक्षा केन्द्र में परिवर्तित करने के बाद अब बच्चों में कई बदलाव देखने में आए। अब बच्चों में आंगनवाड़ी केन्द्र जाने के लिए पहले से ज्यादा उत्सुकता है। बाल शिक्षा केन्द्र में नई ड्रेस, किताबें, खिलौने, टीवी के माध्यम से शिक्षा दी जा रही है जिससे बच्चों के साथ-साथ माता-पिता भी खुश हैं।
     बाल शिक्षा केंद्र में कार्यकर्ता श्रीमती कांता सोनी तथा पर्यवेक्षक किरण परमार द्वारा आंगनवाड़ी केंद्र में दर्ज बच्चों के पालकों से मिलकर आंगनवाड़ी केंद्र में लाने तथा प्राइवेट स्कूल में पढ़ रहे बच्चों के माता पिता से चर्चा कर बाल शिक्षा केंद्र के सम्बन्ध में जानकारी देकर बताया गया कि बच्चों को नयी ड्रेस, किताबें, खिलोने, टी.वी आदि के माध्यम से शासन के द्वारा आंगनवाड़ी केंद्र पर अनौपचारिक शिक्षा निःशुल्क दी जा रही है, अतः आप अपने बच्चों को आंगनवाड़ी केंद्र में भेज कर शासन की योजनाआें का लाभ उठाये। इस पहल से प्रेरित होकर माता-पिता प्राइवेट स्कूलों के बजाए बाल शिक्षा केन्द्र में बच्चों को भेज रहे हैं। चंचल, गौरव को उनके माता पिता ने प्राइवेट स्कूल में दाखिल करवाया था परन्तु बाल शिक्षा केन्द्र बनने एवं बदलाव से प्रेरित होकर प्राइवेट स्कूल से नाम हटाकर प्रतिदिन आंगनवाड़ी केन्द्र में भेज रहे हैं। माता-पिता अपने बच्चों को आंगनवाड़ी केन्द्र में प्राइवेट स्कूल जैसी शिक्षा एवं सुविधाएं मिलने से प्रसन्न है।  
शाजापुर प्रशासनिक डायरी,16जनवरी2020 देखें आज की प्रशासनिक सभी खबरें Reviewed by malwaabhitak on 1/16/2020 Rating: 5

Copyright © Malwa Abhi Tak
Devloped By Sai Web Solution

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.