मध्यप्रदेश सरकार का सुशासन की ओर एक और कदम हर व्यक्ति को उसका हक देने के लिए पारदर्शीता के साथ व्यवस्था- राज्यमंत्री श्री परमार

0 19

राज्यमंत्री श्री परमार ने शाजापुर में “अन्न उत्सव” के दौरान उपभोक्ताओं को खाद्यान्न का वितरण किया

शाजापुर, 07 जनवरी 2021/ मध्यप्रदेश सरकार ने सुशासन की ओर एक और कदम बढ़ाया है। प्रदेश के हर एक व्यक्ति को उसका हक मिले यह सुनिश्चित करने के लिए राज्य सरकार ने सार्वजनिक वितरण प्रणाली के माध्यम से उपभोक्ताओं को दिये जाने वाले खाद्यान्न की वितरण व्यवस्था को पारदर्शी बनाते हुए प्रत्येक माह में एक दिन निश्चित कर अन्न उत्सव मनाया जायेगा। अन्न उत्सव में जिला प्रशासन द्वारा नियुक्त नोडल अधिकारी एवं ग्राम की समिति की उपस्थिति में उपभोक्तओं को खाद्यान्न का वितरण होगा, जिससे गड़बड़ी की संभावना कम हो जायेगी। यह बात प्रदेश के स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) एवं सामान्य प्रशासन राज्यमंत्री श्री इंदरसिंह परमार ने आज शाजापुर जिला मुख्यालय पर विजय नगर की शासकीय उचित मूल्य की दुकान पर आयोजित हुए अन्न्‍ उत्सव में मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित करते हुए कही। इस अवसर पर कलेक्टर श्री दिनेश जैन, अतिरिकत्‍ पुलिस अधीक्षक श्री आरएस प्रजापति, अनुविभागीय अधिकारी श्री एसएल सोलंकी, श्री अम्बाराम कराड़ा, नगरपालिका अध्यक्ष प्रतिनिधि श्री क्षितिज भट्ट, नगरपालिका उपाध्यक्ष श्री मनोहर विश्वकर्मा, श्री शीतल भावसार, श्री नवीन राठौर, श्री के.के. कराड़ा, श्री दिनेश शर्मा, श्री दिलीप भंवर, पार्षद श्रीमती कमलाबाई रामजी, डॉ. पीएस परमार, श्रीमती भावना सुनील गोयल, श्री मूलचंद जादौन, श्री शीतल बारकिया सहित बड़ी संख्या में उपभोक्ता एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

राज्यमंत्री श्री परमार ने संबोधित करते हुए कहा कि पूरे प्रदेश में एक साथ अन्न उत्सव कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। अन्न्‍ उत्सव कार्यक्रम अब प्रतिमाह निश्चित तारीख को होगा। इस दिन नोडल अधिकारी एवं समिति के सदस्यो की उपस्थिति में उपभोक्ताओं को राशन का वितरण किया जायेगा। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार ने अपने कार्यों में पारदर्शिता लाने के लिए अन्न उत्सव कार्यक्रम बनाया है। इसका उद्देश्य सार्वजनिक वितरण प्रणाली के माध्यम से वितरित किये जा रहे खाद्यान्न वास्तविक उपभोक्ताओं तक पहुंचाना है। ग्रामीण क्षेत्रों में जहां हाट बाजार लगते हैं वह माह की पत्येक 04 एवं 05 तारीख को तथा शहरी क्षेत्रों में माह की 07 तारीख को अन्न उत्सव का आयोजन कराने के निर्देश दिये गये हैं। उन्होंने सभी उपभोक्ताओं से अनुरोध किया कि वे अन्न उत्सव के दिन उपस्थित होकर खाद्यान्न प्राप्त करें। यदि किन्ही कारणों से उपभोक्ता उपस्थित नहीं हो पा रहा है तो उसे अन्य दिनों में भी खाद्यान्न्‍ दिया जायेगा। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ने गरीबों के कल्याण से संबंधित सभी योजनाओं को जो पूर्व में बंद हो गई थी, को पुन: चालू किया गया है।

राज्यमंत्री श्री परमार ने कहा कि कोरोना के संक्रमण के कारण आम जनजीवन प्रभावित हुआ है। संक्रमण को देखते हुए कक्षा 1 से 8 तक के स्कूलों को नहीं खोलने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि किसी भी कक्षा में जनरल प्रमोशन नहीं दिया जायेगा। कक्षा 1 से 8 तक के विद्यार्थियों को प्रोजेक्ट दिया जायेगा, जिसके मूल्यांकन के आधार पर ही अगली कक्षा में प्रवेश होगा। विद्यार्थी वर्तमान में जिस भी माध्यम से अध्ययन कर रहे हैं उसी माध्यम से मूल्यांकन की परीक्षा भी दे सकते हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में विद्यार्थीयों के जीवन की सुरक्षा को सर्वोपरी मानते हुए विद्यालयों को शुरू नहीं किया गया है। उन्होंने बताया कि राज्य में शिक्षा के क्षेत्र में बहुत सारे बदलाव किये जा रहे हैं। अब शिक्षा के लिए किसी को परेशान नहीं होना पड़ेगा। साथ ही उन्होंने कहा कि जिन शिक्षक बंधुओं को कोई शिकायत या समस्या हो उसके लिए भी ऑनलाइन शिकायत दर्ज कराने की व्यवस्था की जा रही है। आनलाइन प्राप्त शिकायतों का समाधान भी किया जायेगा। उन्होने कहा कि कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ है, सभी लोग सावधानी बरते और कोरोना से बचके रहें।

इस अवसर पर कलेक्टर श्री जैन ने संबोधित करते हुए कहा कि राशन की दुकानों से सभी उपभोक्ताओं को समय पर खाद्यान्न प्राप्त हो, इसके लिए अन्न उत्सव के आयोजन किये जा रहे हैं। अन्न उत्सव आयोजन के लिए अधिकारियो को नोडल बनाया गया है। खाद्यान्न वितरण की सतत समीक्षा की जायेगी और गुणवत्ता का भी ध्यान रखा जायेगा। सभी शासकीय उचित मूल्य दुकानों को सख्त निर्देश दिये गये हैं कि वे गुणवत्ता विहीन खाद्यान्न का वितरण नहीं करें। कलेक्टर श्री जैन ने बताया कि जिले की शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र की कुल 344 शासकीय उचित मूल्य की दुकानों पर अन्न उत्सव मनाया गया। जिले में 123094 पात्र परिवार उचित मूल्य की दुकान से खाद्यान्न प्राप्त कर रहे हैं।

इस अवसर पर सांकेतिक रूप से श्री ओमप्रकाश जाटव, श्री बाबुलाल, श्री मुकेश, श्रीमती नाजनीन, श्री राकेश को खाद्यान्न का वितरण किया गया।

इस अवसर पर उपस्थित सभी अतिथियों एवं नागरिकों के प्रति जिला आपूर्ति अधिकारी श्री एचआर सुमन ने आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन शिक्षक श्री हेमंत दुबे ने किया।

मालवा अभीतक की ताजा खबर सीधे पाने के लिए👇
🗒 हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें-👉https://www.youtube.com/channel/UCZF8JMVuSpQVJwceqhyQB4A
🗒हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़े👉https://chat.whatsapp.com/D9LFwmzvyXrBKvyY5bZjg5
🗒 फेसबुक पेज को लाइक करे👉https://bit.ly/3fDs7A0

Leave A Reply

Your email address will not be published.

मक्सी नप के श्री राधेश्याम वर्मा सर्वश्रेष्ठ बीएलओ के रुप में शाजापुर ओर मक्सी में सम्मानित     |     राम मंदिर निर्माण के लिए मक्सी में बढ़-चढ़कर दे रहे हैं दान     |     समर्थन मूल्य पर गेहूं उपार्जन के लिए 25 जनवरी से होगा पंजीयन     |     22 मई को होगा कन्याओं का नि:शुल्क विवाह/निकाह सम्मेलन – एकता ग्रुप द्वारा सर्वधर्म विवाह सम्मेलन की बैठक में लिया निर्णय     |     गरीबों का जीवन सुखद बनाना सरकार का ध्येय हैं- राज्य मंत्री सी परमार     |     हाजी यूसुफ खा मास्टर साहब मक्सी का इंतकाल, सुबह 10 बजे होगी नमाजे जनाजा     |     NH-52 पर नैनावद और सनकोटा के बीच कार और बाइक टकराई 2 लोग हुए घायल, शाजापुर अस्पताल भेजा गया     |     VIDEO-खबर शाजापुर से -डायल100 स्टाफ घायल हिरण के लिए बना फ़रिश्ता     |     प्रदेश में चरणबद्ध क्रियान्वित होगा आर्गेनिक मिशन कृषि में आर्गेनिक प्रक्रियाओं पर राज्यपाल तथा मुख्यमंत्री के सम्मुख हुआ प्रस्तुतीकरण     |     मेहगवां के चौधरी परिवार के घर पहुँचे मुख्यमंत्री श्री चौहान गरमा-गरम भजिये के साथ पी चाय बेटी खुशबू को पढ़ाई के लिये किया राजी     |    

error: Content is protected !!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9893195865